100 की दवाई 20 में : कोई अधिक रुपए मांगे, तो ‘सरकार’ को कीजिए फोन

रिपोर्ट : तारिणी मोदी

अहमदाबाद 16 दिसंबर, 2019 (युवाPRESS)। रोग, बीमारी, Disease आदि नाम सुनते ही लोगों में भय का संचार हो जाता है, क्योंकि बीमारी एक ऐसी चीज़ है, जिसमें लोगों को केवल गँवाना पड़ता है, अपना स्वास्थ्य और अनगिनत पैसा। व्यक्ति के लिए सबसे दुःखद होता है, बीमारी के दौरान दवाइयों पर खर्च होने वाला पैसा। यदि आप भी लंबे समय से महंगी दवाइयों पर खर्च करते आ रहे हैं, तो आपके लिए ख़ुश ख़बर है। अब मधुमेह (Diabetes), हृदय रोग, इन्फेक्शन जैसी अनेक बीमीरियों में उपयोग की जाने वाली लगभग 1100 दवाइयों के मूल्य 50 से 80 प्रतिशत कम होने वाले हैं। यह निर्णय प्राइज़ मॉनिटरिंग रिसोर्स यूनिट (Medicine Pricing Monitoring And Resource Unit) में औषधि निर्माण संघ की सहमति से लिया गया है। साथ ही ये निर्देश भी जारी किए हैं कि अधिक दाम मांगने वालों के विरुद्ध सरकार से शिकायत भी कर सकते हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार की अपर मुख्य सचिव डॉ. अनीता भटनागर जैन ने ड्रग इंस्पेक्टरों को निर्देश जारी करते हुए कहा है कि दवाइयों की प्रत्येक दुकान पर इस आदेश की कॉपी 31 दिसंबर तक चस्पा की जाए, ताकि ग्राहक स्वयं ही मोबाइल पर दवा, ब्रांड का नाम डाल कर उसका मूल्य जान सकें और उसी के आधार पर भुगतान करें। ड्रग इंस्पेक्टरों को निर्देशानुसार प्रदेश के 1 लाख 8 हजार 701 दुकानों पर आदेश की कॉपी चस्पा करनी है, जिसके अनुसार शेड्यूल्ड एवं नॉन शेड्यूल्ड वर्ग के लगभग 1100 औषधियों के मूल्य में भारत सरकार ने 50 से 80 प्रतिशत तक की कमी करने का आदेश दिया है। मुख्य सचिव का कहना है कि, सस्ती हुई दवाइयों के विषय में आम जनता को जानकारी देने के लिए प्रचार-प्रसार करना अति आवश्यक है। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि विभाग की वेबसाइट, मोबाइल एप और संपर्क व शिकायत के लिए फोन नंबर भी जारी किया गया है। यह जन सूचना प्रदेश के सभी दवाई की दुकानों पर चस्पा की जाएगी।

किसी भी दवा का सही मूल्य जानने के लिए सर्वप्रथम विभाग की वेबसाइट www.nppaindia.nic.in पर जाकर दवा का नाम और ब्रांड टाइप करना होगा। ऐसा करने के बाद आप उस दवा का सही मूल्य जान सकेंगे और कोई भी दवाई दुकानदार आपसे अधिक पैसे नहीं ले सकेगा। वेबसाइट के अतिरिक्त आप विभाग के PHARMA SAHI DAAM नामक एप का भी प्रयोग कर सकते हैं, जिसमें आपको दवाई का सही मूल्य मिल जाएगा। इसके अलावा यदि कोई दवाई दुकानदार आपसे दवाई के निर्धारित मूल्य से अधिक पैसे मांगे, तो आप विभाग के टोल फ्री नंबर दुकानदार दवा के निर्धारित मूल्य से ज्यादा मांगे, तो आप भारत सरकार के टोल फ्री नंबर 1800111255 या खाद्य सुरक्षा एवं औषधि विभाग उत्तर प्रदेश के नंबर 0522-2320552 पर प्रत्येक कार्य दिवस में सुबह 10 बजे से शाम 6बजे तक कॉल कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

You may have missed