गुजरात ने अपने ‘सपूत’ को फिर दिया भरपूर आशीर्वाद, सभी 26 सीटों पर भाजपा आगे, कांग्रेस का सूपड़ा साफ

भाजपा के चाणक्य अमित शाह को निर्णायक बढ़त

कांग्रेस के चाणक्य अहमद पटेल हार की ओर अग्रसर

अब खुला गुजरात में हुए रिकॉर्ड तोड़ मतदान का रहस्य

अहमदाबाद, 23 मई, 2019। लोकसभा चुनाव 2019 की मतगणना हो रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के गृह राज्य गुजरात की बात करें तो यहाँ एक बार फिर भाजपा ने कांग्रेस को ऑल आउट कर दिया है। गुजरात के मतदाताओं ने पहली बार अपना ही रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है। 1967 के बाद गुजरात के मतदाताओं ने पहली बार 64.11 प्रतिशत मतदान किया है और इससे पहले 1967 में सबसे ज्यादा 63.7 प्रतिशत मतदान किया था। इन रुझानों से स्पष्ट है कि गुजरात के मतदाताओं ने पीएम मोदी को दोबारा पीएम बनाने के लिये पूरे मन से मतदान किया है।

आपको बता दें कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं और गुजरात की गांधीनगर सीट से चुनाव मैदान में हैं। इसलिये यह सीट राष्ट्रीय स्तर पर हॉट सीट मानी जाती है। इस सीट पर वह 1.48 लाख वोटो से आगे चल रहे हैं। इसके अलावा भरूच जो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सलाहकार अहमद पटेल का गृहनगर है, वहाँ भी मोदी की सुनामी ने उनका सूपड़ा साफ कर दिया है। पटेल समुदाय के वोटों पर आधारित अमरेली सीट पर कांग्रेस के उम्मीदवार जो गुजरात के विपक्षी नेता परेश धानाणी चुनाव लड़ रहे हैं, वह भी भाजपा प्रत्याशी नारणभाई काछड़िया से पीछे चल रहे हैं। राज्य की सभी 26 सीटों पर एक बार फिर से मोदी-शाह की सुनामी ने कांग्रेस का सफाया कर दिया है। यह लगातार दूसरी बार है कि राज्य में कांग्रेस का पूरी तरह से सूपड़ा साफ होते नजर आ रहा है। इससे पहले 2014 में भी कांग्रेस राज्य में एक भी सीट जीतने में सफल नहीं हुई थी। ऐसा माना जा रहा था कि कांग्रेस परंपरागत सीट बारडोली और आणंद के साथ-साथ जूनागढ़, सुरेन्द्रनगर, पाटण, बनासकांठा और वलसाड़ में भाजपा को कड़ी टक्कर दे सकती है। कांग्रेस गुजरात में सात सीटें जीतने का दावा कर रही थी, परंतु वह एक बार फिर कोई उलट फेर करने में नाकाम साबित हुई है।

Leave a Reply

You may have missed