नहीं रहे बच्चों के “ग्रैंडपा” अब नहीं बन पाएगी ऐसी ‘रसोई’

रिपोर्ट : तारिणी मोदी

अहमदाबाद, 4 नवंबर, 2019 (युवाPRESS)। मनुष्य हो या संसार का कोई भी प्राणी, सभी को भोजन की आवश्यकता होती है। एक पेड़ को भी सूर्य का प्रकाश संचित करके तथार भूमि से पोषक तत्व जैसे कि पानी, खाद आदि शोष कर पहले स्वयं का भोजन बनाना पड़ता है। इसके बाद वह दूसरों को फल देता है। मीठे फल के पेड़ की भाँति ही दूसरों का पेट भरने वाले एक महान व्यक्तित्व का नाम था नारायण रेड्डी। 73 वर्ष के नारायण रेड्डी तेलंगाना के रहने वाले थे और काफी दिनों से बीमार चल रहे थे, जिसके चलते 27 अक्टूबर, 2019 को उनका निधन हो गया। नारायण रेड्डी की मौत की ख़बर सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो यूजर्स ने उन्हें श्रद्धांजलि देनेवाले पोस्ट किये। YouTube पर ग्रीस, अर्जेंटीना, फिलीपींस, तुर्की, ऑस्ट्रेलिया जैसे विभिन्न देशों के लोगों और कई अन्य लोगों ने भी शोक संदेश पोस्ट किए।

“ग्रैंडपा किचन” चलाते थे नारायण रेड्डी

विश्व में उन्हें लोग उनके नाम से नहीं, अपितु उनके काम से पहचानते थे। दरअसल नारायण रेड्डी एक यूट्यूबर थे और उनके चैनल का नाम था “ग्रैंडपा किचन”। इसलिए लोग उन्हें ग्रैंडपा के नाम से ही जानने लगे थे। उनके यूट्यूब चैनल के लगभग 60.11 लाख से भी अधिक सब्सक्राइबर्स हैं। एक वीडियो पर उन्हें औसतन लाखों-करोड़ों लाइक्स मिलते थे। वे बड़े ही जिंदा दिल और मिलनसार व्यक्ति थे। उनके चेहरे पर सदैव एक मीठी-सी मुस्कान रहती थी। वास्तव में वे सबके दादाजी ही थे, जिन्होंने जीवन के अंत तक लोगों की सेवा की।

रोज़ 100 अनाथ बच्चों को बना कर खिलाते थे खाना

26 अगस्त, 2017 को नारायण रेड्डी ने ‘ग्रैंडपा किचन’ नामक यूट्यूब चैनल शुरू किया था। इस चैनल में वे भोजन बनाने की विधि बताते थे, परंतु ऐसा फेमस होने या पैसे कमाने के लिए नहीं करते थे, अपितु नारायण इसके जरिए गरीब और अनाथ बच्चों का पेट भरते थे। वे हमेशा 100 से ज्यादा लोगों को भोजन बना कर खिलाते थे। उनका मानना था कि कम से कम 100 मुँह को खाना खिलाना ही चाहिए, यानी लगभग 100 लोगों की भूख मिटानी चाहिए। इस खाने को वे बनाने के बाद गरीब और अनाथ बच्चों में बाँट देते थे। वे शेयरिंग और केयरिंग में विश्वास रखते थे। रेड्डी का पहला वीडियो अगस्त 2017 को YouTube पर अपलोड किया गया था और उन्होंने 2,000 अंडों के साथ एक डिश बनाई थी, तब से ही उन्होंने फ्रेंच फ्राइज़ से लेकर चिकन बिरयानी तक अनेक डिश बनाईं थी। उन्होंने अपने चैनल पर डोनट्स को भारी भरकम केक भी खिलाया था। ग्रैंडपा किचन के ज्यादातर वीडियो खेत खलिहान और नहरों के किनारे बनाए गए हैं। लोग इनके खाना बनाने के तरीके को काफी पसंद करते थे। उन्होंने कुल 226 वीडियो अपलोड किए थे, अंतिम वीडियो उनके अंतिम संस्कार का अपलोड किया गया है।

You may have missed