घोर आश्चर्य ! ‘रामायण’ में रह कर भी नहीं मालूम कि हनुमान संजीवनी बूटी किसके लिए लाए थे…

* पिता-काका के नाम दशरथ पुत्रों पर, तो भाई हैं लव-कुश

* सोनाक्षी ने परिवार के ‘रामायण प्रेम’ की लुटिया डुबोई

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद 21 सितंबर, 2019 (युवाPRESS)। भारत में सर्वाधिक पूजे जाने वाले भगवान राम और कृष्ण के बारे में छोटे, नन्हे-मुन्ने बच्चों से लेकर बड़े-बुज़ुर्गों को भी कई कहानियाँ मालूम हैं। भगवान राम और भगवान कृष्ण पर दो महान ग्रंथ रामायण और महाभारत भी हैं, जिनमें भगवान विष्णु के इन दोनों अवतारों, उद्देश्यों, कार्यों और संदर्भों से जुड़ी कई घटनाएँ और कहानियाँ दी हुई हैं, परंतु यह दुर्भाग्य की बात है कि इंटरनेट, मोबाइल और विज्ञान प्रदत्त भौतिक सुख-सुविधाओं के पीछे दौड़ने वाली आज की युवा पीढ़ी हमारे पुरातन इतिहास में झाँकने को तैयार नहीं है।

यह अज्ञान घोर आश्चर्यपूर्ण और दुर्भाग्यपूर्ण तब हो जाता है, जब कोई परिवार पूरी तरह रामायण के रंग में रंगा हुआ हो, रामायण नामक घर में रहता हो और उस परिवार के एक सदस्य को रामायण से जुड़ा एक सामान्य प्रश्न का उत्तर न पता हो। जी हाँ, हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा की, जिन्होंने कौन बनेगा करोड़पति (KBC) के करमवीर एपिसोड में पिता शत्रुघ्न सिन्हा सहित पूरे परिवार के ‘रामायण प्रेम’ की लुटिया डुबो दी। इस शो में सोनाक्षी सिन्हा विशेष प्रतिभागी रूमा देवी के साथ पहुँची थीं। हर शुक्रवार को केबीसी का करमवीर एपिसोड प्रसारित होता है, जिसमें जीवन में संघर्ष करने वाले विशेष कर्मवीरों को बुलाया जाता है। राजस्थान की रूमा देवी भी ऐसी ही कर्मवीर हैं, जो 22 हजार महिलाओं को कौशल प्रशिक्षण दे चुकी हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 2018 में रूमा देवी को नारी शक्ति पुरस्कार से सम्मानित भी किया था।

परिवार का ‘रामायण प्रेम’ और सोनाक्षी का अज्ञान

पहले बात करते हैं बॉलीवुड अभिनेता और पूर्व सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के परिवार के रामायण प्रेम की। सिन्हा परिवार में कुल चार भाई हैं, जिनके नाम रामायण में अयोध्या नगरी के राजा दशरथ के चार पुत्रों पर रखे गए हैं यानी राम, लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न। शत्रुघ्न सिन्हा ने परिवार के रामायण प्रेम की परम्परा को आगे बढ़ाते हुए अपने दो पुत्रों के नाम भगवान राम के पुत्रों के नाम पर यानी लव और कुश रखे। स्वयं सोनाक्षी का अर्थ होता है माता पार्वती। इतना ही नहीं, हाल ही में शत्रुघ्न सिन्हा ने अपने बंगले का नाम भी रामायण रखा। इसका अर्थ यह हुआ कि सोनाक्षी सहित पूरा शत्रुघ्न सिन्हा परिवार रामायण में रहता है। रामायण प्रम सभी को विरासत में मिला होना भी स्वाभाविक है। ऐसे में जब केबीसी में अमिताभ बच्चन ने सोनाक्षी सिन्हा और रूमा देवी के सामने यह प्रश्न रखा, ‘रामायण के अनुसार हनुमान किसके लिए संजीवनी बूटी लाए थे ?’ तो ऑडियंस में उपस्थित सभी लोगों और टेलीविज़न पर शो देख रहे सभी दर्शकों को लगा कि इतने सरल प्रश्न का उत्तर तो रूमा देवी ही दे देंगी, परंतु रूमा देवी उत्तर न दे सकीं। ख़ैर रूमा देवी को छोड़ दीजिए, वे अन्य कार्यों में ही इतनी व्यस्त रहती हैं कि कदाचित उन्हें रामायण के बारे में अधिक जानकारी नहीं होगी, परंतु जब सोनाक्षी सिन्हा भी इस प्रश्न पर मौन हो गईं, तो लोग स्तब्ध और आश्चर्यचकित रह गए। अमिताभ बच्चन ने इस प्रश्न के उत्तर में चार विकल्प ए. सुग्रीव, बी. लक्ष्मण, सी. सीता और डी. राम दिए थे, परंतु सोनाक्षी सिन्हा ने पहले सीता और फिर राम कहा। अंतत: उन्होंने अंतिम लाइफलाइन एक्सपर्ट हेल्प लेने का निर्णय किया। एक्सपर्ट श्वेता ने इस आसान से प्रश्न का उत्तर दिया, ‘बी. लक्ष्मण’।

सोशल मीडिया पर सोनाक्षी की खिंचाई

इस एपिसोड में सोनाक्षी सिन्हा के इस अज्ञान के प्रदर्शन के बाद सोशल मीडिया पर उनकी जम कर खिंचाई शुरू हो गई। पहली बात, तो केबीसी के होस्ट अमिताभ बच्चन स्वयं सोनाक्षी के इस अज्ञान से आश्चर्य में पड़ गए। इधर शनिवार सुबह से ही ट्विटर सहित सोशल मीडिया पर सोनाक्षी की जम कर खिंचाई शुरू हो गई। ट्विटर पर #sonakshisinha तथा #YoSonakshiSoDumb ट्रेंड करने लगा। लोगों ने न केवल सोनाक्षी को मूर्ख बताया, अपितु उनकी तुलना आलिया भट्ट और अनन्या पांडे तक से कर डाली।

You may have missed