महाराष्ट्र : फडणवीस के फैसले में है दम, शरद पवार का पावर हुआ बेदम

*अजित पवार के ट्वीट ने खोल दी एनसीपी के दावों की पोल

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 24 नवंबर, 2019 (युवाPRESS)। महाराष्ट्र (MAHARASHTRA) में सियासी हलचल देखी जा रही है। जब शनिवार सुबह महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश के वरिष्ठ भाजपा नेता देवेन्द्र फडणवीस (DEVENDRA FADNAVIS) ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NATIONALIST CONGRES PARTY-NCP) के नेता अजित पवार (AJIT PAWAR) के नेतृत्व में एनसीपी के सभी विधायकों के समर्थन के साथ राज्यपाल के समक्ष बहुमत का दावा करते हुए सरकार बनाई है और मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। साथ ही अजित पवार को भी सरकार में भागीदार बना कर उप मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई है, तब से ही प्रदेश की राजनीति में भूचाल आया हुआ है। एनसीपी के टूटने की खबर ने शिवसेना (SHIV SENA), कांग्रेस (CONGRESS) और एनसीपी में हड़कम्प मचा दिया। इसके बाद से ही एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार (SHARAD PAWAR) की ओर से अजित पवार को मनाने की कोशिशें की जा रही हैं और यह दावा किया जा रहा है कि एनसीपी के विधायक पार्टी में लौट रहे हैं तथा 54 में से 49 विधायकों की पार्टी में वापसी का भी दावा किया गया, परंतु रविवार शाम 5 बजे अजित पवार ने एक ट्वीट (TWEET) करके एनसीपी के दावों की पोल खोल दी। यह ट्वीट संकेत दे रहा है कि फडणवीस के फैसले में दम है, जबकि महाराष्ट्र की राजनीति के पितामह कहलाने वाले दिग्गज नेता शरद पवार का पावर (POWER) अब बेदम हो गया है।

ऐसा क्या है अजित पवार के ट्वीट में…?

अजित पवार ने अपने ऑफिसियल ट्विटर अकाउण्ट (OFFICIAL TWITTER ACCOUNT) से रविवार देर शाम 5.02 बजे ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने अपने परिचय में खुद को महाराष्ट्र का डेप्युटी चीफ मिनिस्टर (DEPUTY CHIEF MINISTER) लिखा है, जो इस बात के संकेत हैं कि भाजपा के साथ उनका कमिटमेंट (COMMITMENT) पक्का है।

क्योंकि शनिवार सुबह उन्हें शपथ लेने पर बधाई देने वाले पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह तथा अन्य केन्द्रीय मंत्री और भाजपा नेताओं को धन्यवाद कहते हुए उन्होंने ट्वीट में यह लिखा है कि भाजपा-राकांपा गठबंधन प्रदेश में 5 वर्ष के लिये स्थिर सरकार देगा और प्रदेश तथा प्रदेश के लोगों के कल्याण के लिये काम करेगा।

इस ट्वीट में उन्होंने खुद को एनसीपी का नेता भी लिखा है और यह भी लिखा है कि वे एनसीपी में थे, हैं और रहेंगे तथा शरद पवार उनके नेता रहेंगे। उन्होंने यह भी लिखा है कि चिंता करने की कोई बात नहीं है, सब ठीक है। हालाँकि थोड़ा धैर्य आवश्यक है। समर्थन के लिये आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद।

अजित पवार के ट्वीट का शरद पवार ने दिया ऐसा जवाब

दूसरी तरफ अजित पवार के ट्वीट का जवाब देते हुए एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने लिखा है कि भाजपा के साथ गठबंधन करने का तो सवाल ही नहीं उठता है। एनसीपी ने सर्व सहमति से शिवसेना और कांग्रेस के साथ मिल कर ही सरकार बनाने का फैसला किया है। अजित पवार का बयान लोगों के बीच भ्रम और गलत धारणा फैलाने वाला है।

You may have missed