कौन हैं Generation Z : ‘क्लाइमेट चेंज’ और ‘सोशल जस्टिस’ जैसे मुद्दों पर रहते हैं संवेदनशील…

रिपोर्ट : तारिणी मोदी

अहमदाबाद 31 दिसंबर, 2019 युवाPRESS। पॉप्युलर डेटिंग एप टिंडर (Tinder) ने Generation Z पर फोकस करते हुए इयर-इन-रिव्यू रिपोर्ट रिलीज की है, जिसके अनुसार कहा गया है कि डेटिंग ऐप पर Generation Z यूजर्स के बीच ‘क्लाइमेट चेंज’, ‘एनवायरमेंट’ और ‘सोशल जस्टिस’ जैसे मुद्दों पर सबसे अधिक बाते की गई हैं। 2019 में टिंडर के यूजर्स में Generation Z यूजर्स की बड़ी हिस्सेदारी रही है, इसलिए इस रिपोर्ट को आधार माना जा रहा है। Generation Z में 1995 से 2019 के बीच जन्मे टीनेजर्स अक्सर कहते हैं कि क्लाइमेट चेंज यानी पर्यावरण में हो रहे बदलाव उनकी पीढ़ी का सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा है। वे न केवल इसको लेकर आवाज उठा रहे हैं, अपितु डेटिंग ऐप्स पर भी इसकी लगातार चर्चा कर रहे हैं।

2018 में डेलॉयट की एक रिपोर्ट में कुछ ऐसे ही सुझाव आए थे, जिसके तहत 77 प्रतिशत Generation Z के टीनेजर्स ने सोशल एक्टिविज्म को लेकर प्राथमिकता दिखाते हुए, एक ऐसे ऑर्गेनाइजेशंस में काम करने की इच्छा व्यक्त की थी, जो उनकी वैल्यू से मेल खाता हो और उनका ये भी मानना था कि उनका कार्य उनकी प्रोफेशनल लाइफ तक सीमित न हो, अपितु उनके समाज के कल्याण के लिए भी हो। Generation Z यूजर्स ने ये भी कहा था कि उनके रोमांटिक पार्टनर्स का जुड़ाव सामाजिक कार्यों में भी होना चाहिए। अब बात करते हैं कि आख़िर कौन हैं ये Generation Z ?

पहले बात करते हैं, Y पीढ़ी की जिसे सहस्राब्दी पीढ़ी (Millennial generation), जनरेशन नेक्स्ट, नेट जनरेशन, इको बूमर भी कहा जाता है। ये X पीढ़ी के बाद के जनसांख्यिकीय समूह को वर्णित करती है। चूँकि इस बारे में कोई सटीक तिथियाँ उपलब्ध नहीं है कि सहस्राब्दी पीढ़ी कब शुरू होती है और कब ख़त्म होती है अतः टिप्पणीकारों ने इसके लिए 1970 के दशक से 2000 के दशक के प्रारंभ के बीच की जन्म तिथियों का प्रयोग किया है। अब आते हैं Generation Z पर। 2012 में UAS टुडे ने सहस्त्राब्दी के बाद अगली पीढ़ी का नाम चुनने के लिए पाठकों के लिए एक ऑनलाइन प्रतियोगिता प्रायोजित की थी। इस प्रतियोगिता में लोगों ने Generation Z नाम सुझाया था। कुछ अन्य प्रस्तावित नाम जैसे iGeneration, Gen Tech, Gen Wii, Net Gen, Digital Natives, Plurals, and Zoomers को भी सुझाया गया था, परंतु अंततः Generation Z को चुना गया। iGeneration या iGen एक ऐसा नाम है जिसे कई व्यक्तियों ने गढ़ा है। रैपर एमसी लार्स को 2003 की शुरुआत में इस शब्द का उपयोग करने का श्रेय दिया जाता है। जनसांख्यिकीकार चेरिल रसेल का दावा है कि उन्होंने 2009 में पहली बार इस शब्द का इस्तेमाल किया था। वहीं साइकोलॉजी के प्रोफेसर और लेखक ज्यां ट्वेंज का दावा है कि सिलिकॉन वैली के पास गाड़ी चलाते समय iGen नाम “उसके सिर में बस गया था।

टिंडर की रिपोर्ट के अनुसार Generation Z टीनेजर्स अपने काम या मिशन का जिक्र करना पसंद करते हैं। वहीं Millennial generation 3 गुना अधिक ट्रेवल का जिक्र करते हैं। बिजनेस इनसाइडर की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि किसी दूसरे जेनरेशन के मुकाबले Millennial generation कहीं अधिक पैसा ट्रेवल पर खर्च करते हैं। जहाँ Generation Z टीनेजर्स इस बात का ध्यान रखते हैं कि उनकी वैल्यू एंप्लॉयर से मेल खाती हो। वहीं Millennial generation का फोकस इस बात पर रहता है कि उनकी सैलरी बेसिक एक्सपेंसेज और वैकेशंस को कवर करे। न्यूज़ वेबसाइट इनसाइडहुक की रिपोर्ट के अनुसार Millennial generation के बीच टॉप ट्रेडिंग टर्म में ‘रियल’, ‘लिट’, ‘स्टैन’ और ‘टी’ रहे हैं। 2018 के बिजनेस इनसाइडर सर्वे में यह बात सामने आई कि Millennial generation के मुकाबले Generation Z यूजर्स कहीं अधिक सोशल जस्टिस माइंडेड रहे हैं।

You may have missed