मिलिए उन लोगों से जो हैं वेतन के मामले में मुकेश अंबाणी से भी आगे

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 22 अगस्त, 2019 (युवाPRESS)। आपको जानकर हैरानी होगी, परंतु यह सत्य है कि एशिया और भारत के सबसे अमीर बिज़नेस मैन मुकेश अंबाणी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज़ (RIL) का कारोबार तो टॉप गियर में है और अन्य कंपनियों के मुकाबले तेजी से ग्रोथ कर रही है। पिछले सप्ताह मात्र दो दिन में कंपनी की प्रॉपर्टी में लगभग 29,000 करोड़ रुपये की वृद्धि हो गई। इन सबके बावजूद कंपनी के चेयरमैन और मैनेजिंग डिरेक्टर मुकेश अंबाणी की सैलरी में कोई घट-बढ़ नहीं हुई है। आश्चर्य की बात तो यह है कि मुकेश अंबाणी की सैलरी पिछले 11 साल से नहीं बढ़ी है और वह वार्षिक 15 करोड़ रुपये के सैलरी पैकेज पर ही अटके हुए हैं। हालाँकि कंपनी उन्हें सैलरी के अतिरिक्त लगभग 4.50 करोड़ रुपये के भत्ते उपलब्ध कराती है। इससे भी अधिक चौंकाने वाली बात तो यह है कि देश के सबसे अधिक अमीर होने के बावजूद सैलरी के मामले में 12 अन्य भारतीय बिज़नेस मैनों से पीछे हैं।

12 भारतीय बिज़नेस मैन, जो सैलरी में अंबाणी से आगे हैं

कमाल की बात तो यह है कि इन 12 में से 2 बिजनेस मैन तो रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के ही हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर हितल मेस्वानी कंपनी के चेयरमैन और एमडी मुकेश अंबाणी से भी अधिक है। वित्त वर्ष 2019-20 में उनका वार्षिक सैलरी पैकेज 20.57 करोड़ रुपये है, जो अंबाणी के पैकेज से 5.57 करोड़ रुपये अधिक है। आरआईएल के ही एक और एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर निखिल मेस्वानी का सैलरी पैकेज भी 20.57 करोड़ रुपये है।

इनके अलावा इंफोसिस के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर सलील पारीख का वार्षिक सैलरी पैकेज 17.03 करोड़ रुपये है।

बजाज होल्डिंग्स एंड इन्वेस्टमेंट के एमडी संजीव बजाज का सालाना सैलरी पैकेज 19.13 करोड़ रुपये है।

टीवीएस (TVS) मोटर कंपनी के सीएमडी वेणु श्रीनिवासन का वार्षिक सैलरी पैकेज 23.77 करोड़ रुपये है।

एलएंडटी (L&T) के सीएफओ आर. शंकर रमन का सालाना सैलरी पैकेज 25.08 करोड़ रुपये है।

भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील मित्तल का वार्षिक सैलरी पैकेज 31 करोड़ रुपये है।

बजाज ऑटो के एमडी राजीव बजाज का वार्षिक सैलरी पैकेज 32.31 करोड़ रुपये है।

जबकि एलएंडटी के मैनेजिंग डायरेक्टर एस. एन. सुब्रहमण्यम का वार्षिक सैलरी पैकेज सर्वाधिक 48.45 करोड़ रुपये है।

मुकेश अंबाणी ने खुद ही नहीं बढ़ाई अपनी पगार

मुकेश अंबाणी की सैलरी पिछले 11 साल से क्यों नहीं बढ़ी है ? यह सवाल उठने पर बताया गया कि अंबाणी ने स्वेच्छा से अपनी परिलब्धियाँ स्थिर रखने की अक्टूबर 2009 में घोषणा की थी। इसके बाद से उनकी कंपनी के हितल और निखिल मेस्वानी के अलावा कंपनी के कार्यकारी निदेशक पी.एम.एस. प्रसाद तथा कंपनी के तेल परिशोधन कारोबार के प्रमुख पवन कुमार कपिल के पैकेज में बढ़ोतरी हुई। इन सबके बावजूद मुकेश अंबाणी के पास एक हेलीकॉप्टर और 500 से अधिक गाड़ियाँ हैं।

दुनिया की सबसे अमीर फैमिली हर मिनट कमाती है 50 लाख रुपये !

आपके लिये यह भी जानना जरूरी है कि दुनिया की सबसे अमीर फैमिली वॉलमार्ट (WALMART) है, जो हर मिनट 70,000 डॉलर यानी 49,87,675 रुपये कमाती है। हर घण्टे में यह फैमिली 4 मिलियन डॉलर यानी 28,45,68,000 रुपये और हर दिन लगभग 100 मिलियन डॉलर यानी 7 अरब 12 करोड़ रुपये कमाती है। इस श्रृंखला में वर्ल्ड्स रिचेस्ट फैमिलीज़-2019 की लिस्ट में भारत की अंबाणी फैमिली 9वें क्रम पर है। अंबाणी परिवार की कुल कमाई 50.4 बिलियन डॉलर यानी 5,040 करोड़ रुपये है। इस लिस्ट में कुल 25 धनकुबेरों को स्थान दिया गया है और सबकी कुल संपत्ति 1.4 ट्रिलियन डॉलर है। 100 ट्रिलियन अर्थात् लगभग डेढ़ लाख करोड़ रुपये होते हैं।

You may have missed