आप भी PM मोदी की तरह ध्यान करना चाहते हैं ? PLEASE WAIT, YOUR IN QUEUE…

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद, 22 जून, 2019 (युवाप्रेस.कॉम)। आपको याद होगा 18 मई, 2019 का वह दिन, जब पूरा देश अपनी ओर से सुनाए गए जनादेश 2019 की व्याकुलता से प्रतीक्षा कर रहा था, तब तत्कालीन निवर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 300 सीटें आने के संपूर्ण विश्वास के साथ दिल्ली से 300 किलोमीटर दूर केदारनाथ में बनी रुद्र मेडिटेशन गुफा में अत्यंत शांत अवस्था में ध्यान कर रहे थे। एक तरफ लोकसभा चुनाव 2019 के परिणामों से पहले मुंगेरीलाल के हसीन सपने देखने वाले अनेक विपक्षी दलों के नेता दिल्ली से लेकर देश के विभिन्न हिस्सों में भागादौड़ी कर रहे थे, वहीं दूसरी तरफ नरेन्द्र मोदी की केदारनाथ की इस गुफा में परम शांत मुद्रा में ध्यानावस्था की तसवीरें सामने आईं, तो विपक्षी दल ही नहीं, आम जनता को भी आश्चर्य हुआ।

ख़ैर, उसके बाद क्या हुआ, यह तो पूरा देश जानता है, परंतु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सिद्ध कर दिया कि वे बाहर भीषण कोलाहल के बावजूद भीतर से परम शांत रह सकते हैं। उन्होंने चुनाव परिणामों से कुछ घण्टों पहले उत्तराखंड में केदारनाथ स्थित रुद्र मेडिटेशन गुफा में ध्यान करके विरोधियों को बता दिया कि वे चाहें कितना शोर मचा लें, परंतु पीएम मोदी के विश्वास और मनोबल के आगे विरोधियों के सारे सपने चकनाचूर होने निश्चित हैं।

चुनाव परिणामों में भाजपा को मिली शानदार जीत के बाद जहाँ एक तरफ नरेन्द्र मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री बन गए, वहीं आम जनता में केदारनाथ स्थित रुद्र मेडिटेशन गुफा का क्रैज़ बढ़ गया है, क्योंकि इस गुफा में देश के प्रधानमंत्री जैसे व्यक्ति ध्यान कर चुके हैं। यही कारण है कि रुद्र मेडिटेशन गुफा में ध्यान करने के लिए बड़ी संख्या में लोग रुचि दर्शा रहे हैं और इसके साथ ही ध्यानेच्छुकों की सूची लम्बी होती जा रही है।

उल्लेखनीय है कि यह गुफा मोदी सरकार ने ही बनवाई है, जिसमें कोई भी आम श्रद्धालू 1500 रुपए का शुल्क देकर 24 घण्टे के लिए एकांत साधना कर सकता है। पीएम मोदी के ध्यान करने से पहले रुद्र मेडिटेशन गुफा की इतनी डिमांड नहीं थी, परंतु जब से मोदी ने यहाँ ध्यान लगाया, तब से इस गुफा में 24 घण्टे बैठ कर एकांत में ध्यान-साधना करने वालों की मानो बाढ़ आ गई है। गुफा के लिए ऑनलाइन बुकिंग सुविधा भी उपलब्ध है, परंतु आपको जान कर आश्चर्य होगा कि यह गुफा अगले 10 दिनों के लिए पहले ही बुक हो चुकी है। इसीलिए यदि आप भी केदारनाथ की इस गुफा में ध्यान करना चाहते हैं, तो प्लीज़ वेट, यू आर इन क्यू…

गढ़वाल विकास निगम के महाप्रबंधक बी. एल. राणा के अनुसार रुद्र मेडिटेशन गुफा अब मोदी गुफा के रूप में प्रसिद्ध हो गई है। पीएम मोदी के बाद अब तक करीब 20 लोग इस गुफा में 24 घण्टे की ध्यान-साधना कर चुके हैं और पूरे देश से बड़ी संख्या में लोग ऑनलाइन बुकिंग करा रहे हैं। यही कारण है कि अब निगम ने एक और गुफा बनाने का निर्णय किया है। यद्यपि इसके बन कर तैयार होने में समय लगेगा।

Leave a Reply

You may have missed