दुनिया में कब और किसने भेजा था पहला ई-मेल ? जानिए डिजिटल कैमरा, इंटरनेट और ई-मेल के बारे में वो सब कुछ, जो आप नहीं जानते

1971 में भेजा गया था दुनिया का पहला ईमेल।

आजकल सैल्फी कैमरा और सोशल मीडिया का भूत युवाओं के सिर चढ़कर बोल रहा है। इंटरनेट जीवन का अभिन्न हिस्सा बन गया है। इंटरनेट के माध्यम से पूरी दुनिया सिमटकर हाथ में आ गई है। इंटरनेट के कारण घर बैठे सुविधाएँ सुलभ हो रही हैं। इंटरनेट हर वस्तु को आसान बना दिया है, परंतु क्या आप जानते हैं कि डिजिटल कैमरा और इंटरनेट दुनिया में कब आये ? और किसने, कब पहला ई-मेल भेजा था ?

1971 में पहली बार भेजा गया ई-मेल संदेश

दरअसल अमेरिका के कैंब्रिज में रेमंड सैमुअल टॉमलिंसन नामक वैज्ञानिक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज में इंस्टैंट मैसेजिंग पर कई साल से काम कर रहे थे, उन्हें इस काम में 1971 में पहली सफलता तब मिली जब उन्होंने अपने ही ऑफिस में रखे एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में संदेश भेजने में कामयाबी हासिल की। उनके ऑफिस के यह दोनों कंप्यूटर्स अर्पानेट (Advanced Research Projects Agency Network) से जुड़े हुए थे। इसीलिये इस अर्पानेट को ही इंटरनेट का पूर्वज माना जाता है। यह दुनिया का पहला ई-मेल माना जाता है। इस अर्पानेट का उपयोग संदेश को एक स्थान से दूसरे स्थान पर भेजने के लिये किया जाता था। इस प्रकार जब पहला ई-मेल भेजा गया तब इंटरनेट नहीं था और आजकल इंटरनेट के बिना ई-मेल नहीं भेजा जा सकता।

1983 में हुआ आधुनिक इंटरनेट का जन्म

अर्पानेट के बाद 1973 से इंटरनेट की नींव तो पड़ गई परंतु इसके बाद जनवरी-1983 में आधुनिक इंटरनेट का जन्म हुआ। वह भी यूरोप और ऑस्ट्रेलिया में। और 1992 में पहली बार ई-मेल में तस्वीर अटैच करके फोटो ई-मेल भेजा गया। नेथेनियल बोरेंसटीन ने अपने सहयोगी नेड फ्रीड के साथ मिलकर इस तकनीक पर काम किया था। यह अलग से एक फाइल थी, जिसे अटैच करके भेजना होता था। यह मात्र शब्द संदेश नहीं बल्कि पूरा अलग फॉर्मेट होता था। भारत में 15 अगस्त-1995 को पहली बार इंटरनेट का उपयोग हुआ। भारत का विदेश संचार निगम लिमिटेड (VSNL) पहली बार इंटरनेट को भारत में अपने उपभोक्ताओं के उपयोग के लिये लाया था, जबकि अमेरिका के 42वें राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ई-मेल भेजने वाले प्रथम राष्ट्रपति बने, जिन्होंने 7 नवंबर 1998 को अंतरिक्ष यात्री जॉन ग्लेन को ऐतिहासिक ई-मेल भेजा था।

1990 में आया डिजिटल कैमरा

अब दुनिया के प्रथम डिजिटल कैमरे की बात करें तो यह 1990 में उपलब्ध हुआ। एक इंजीनियर स्टीवन सैसन ने पहले इलेक्ट्रॉनिक कैमरे का आविष्कार वर्ष 1975 में किया था, जबकि स्विटजरलैंड की डायकैम नामक कंपनी ने पहला डिजिटल कैमरा बनाया था और इसे लॉजिटेक फोटोमैन नाम देकर व्यावसायिक रूप से बाजार में उपलब्ध कराया था। इसमें एक CCD इमेज सेंसर का प्रयोग किया जाता था, तस्वीरों को डिजिटल रूप में संग्रहित किया जाता था।

Leave a Reply

You may have missed