Hindi से जुड़ी इन बातों को जानते हैं आप ?

Written by
On every 10 January, International Hindi Day is celebrated. Former PM Manmohan Singh officially announced this in 2006.

भाषा (Language) वह साधन है जिसके जरिए हम अपने विचारों को व्यक्त करते हैं। विश्व में हजारों तरह की भाषाएं बोली जाती हैं। हिंदी उन भाषाओं में से एक है। आज विश्व हिंदी दिवस (International Hindi Day) है। विश्व में हिंदी के प्रचार-प्रसार और इसे अंतर्राष्ट्रीय भाषा के रूप में मजबूत करने के लिए हर साल 10 जनवरी को यह  मनाया जाता है। ना सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों में भी इस अवसर पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। Yuvapress.com आप सभी पाठकों को विश्व हिंदी दिवस (International Hindi Day) के विशेष अवसर पर शुभकामनाएं देता है।

2006 में मनमोहन सिंह ने विश्व हिंदी दिवस की घोषणा की

हिंदी के प्रचार-प्रसार के लिए 2006 में तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस (International Hindi Day) के रूप में मनाए जाने की घोषणा की थी। सरकार की तरफ से ये पहली कोशिश थी लेकिन गैर सरकारी रूप से 43 सालों से 10 जनवरी को पूरे विश्व में हिंदी सम्मेलन (World Hindi Conference) का आयोजन किया जा रहा है। पहला विश्व हिंदी सम्मेलन (World Hindi Conference) 10 जनवरी 1975 को नागपुर में आयोजित किया गया था। जानकारी के लिए बता दें कि हर साल 14 सितंबर को अपने देश में हिंदी दिवस मनाया जाता है। दरअसल 14 सितंबर 1949 को भारतीय संविधान ने हिंदी को राष्ट्रीय भाषा का दर्जा दिया था इसलिए हिंदी दिवस 14 सितंबर को मनाते हैं लेकिन विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी को मनाया जाता है।

United Nations के Official languages का दर्जा दिलाने की कोशिश

हाल ही में विदेश मंत्री (External Affairs Minister) सुषमा स्वराज ने लोकसभा में बयान दिया कि यूनाइटेड नेशन (United Nations) में हिंदी को Official languages का दर्जा दिलाने में जो खर्च आएगा उसके लिए हम तैयार हैं। सुषमा स्वराज के इस बयान का कांग्रेस नेता और यूनाइटेड नेशन के पूर्व अंडर सेक्रेटरी जनरल शशि थरूर ने विरोध किया जिसको लेकर काफी विवाद भी हुआ। वर्तमान में यूनाइटेड नेशन(United Nations) के 6 Official languages(Arabic, Chinese, English, French, Russian and Spanish—English and French are the only two working languages) हैं।

जानें, हिंदी भाषा से जुड़े ये फैक्ट्स

1). भारत के 77 फीसदी लोग हिंदी पढ़, लिख और बोल सकते हैं।

2). हर पांच में एक शख्स हिंदी में इंटरनेट का इस्तेमाल करता है।

3). विश्व के 130 यूनिवर्सिटी में हिंदी पढ़ाई जाती है।

4). चाइनीज के बाद हिंदी विश्व में सबसे ज्यादा बोली जाती है। हालांकि अंग्रेजी (English) को वैश्विक भाषा माना जाता है।

5). हिंदी  भारत की उन 7 भाषाओं में एक है जिसका इस्तेमाल Web address बनाने में किया जाता है।

6). 1881 में बिहार पहला राज्य बना था जिसने हिंदी को आधिकारिक भाषा घोषित किया।

7). भारतीय संविधान ने 14 सितंबर 1949 में  हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया था।

8). भारतीय संविधान ने 22 भाषाओं को मान्यता दी है। केवल हिंदी और अंग्रेजी को सरकारी कामकाज की भाषाओं के तौर पर मान्यता दी गई है।

9). 10 जनवरी 1975 को पहले विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन नागपुर में किया गया था। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने उस सम्मेलन का उद्घाटन किया था।

10). पहले विश्व हिंदी सम्मेलन का बोधवाक्य (Motto) ‘वसुधैव कुटुंबकम’ था।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares