उन्नाव में झोलाछाप डॉक्टर की लापरवाही से 21 लोग हुए HIV पॉजीटिव

Written by
HIV Positive

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले से एक परेशान करने वाली खबर आयी है। दरअसल यहां एक झोलाछाप डॉक्टर की लापरवाही से 21 लोग एचआईवी पॉजीटिव (HIV Positive) हो गए हैं। मामले के खुलासे के बाद प्रदेश में हड़कंप मच गया है। वहीं आरोपी डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और मामले की जांच की जा रही है।

लापरवाही से 21 लोग HIV Positive क्या है मामला

स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, झोलाछाप डॉक्टर राजेन्द्र कुमार एक ही सीरिंज से लोगों को इंजेक्शन लगा रहा था, जिस कारण लोगों में एचआईवी का संक्रमण फैल गया। उन्नाव के मुख्य चिकित्सा अधिकारी के अनुसार, यह मामला उस वक्त चर्चा में आया, जब जिले में स्वास्थ्य विभाग ने एक जांच कैंप का आयोजन किया। इस कैंप में एचआईवी पीड़ितों (HIV Positive) की संख्या काफी ज्यादा पायी गई। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने इसका कारण जानने के लिए दो सदस्यों वाली एक कमेटी का गठन किया और उसे मामले की जांच करने का आदेश दिया।

HIV Positive

इस कमेटी की जांच में पता चला कि एचआईवी पीड़ितों (HIV Positive) की संख्या बांगरमऊ इलाके में सबसे ज्यादा यानि कि 21 है। इसके बाद जब छानबीन की गई तो पता चला कि बांगरमऊ इलाके के एक गांव में झोलाछाप डॉक्टर राजेन्द्र कुमार रहता है, जो कि सस्ते इलाज के लिए मरीजों में एक ही सीरिंज का इस्तेमाल करता है। अधिकारियों का मानना है कि हो सकता है इसी वजह से इलाके में एचआईवी का संक्रमण फैला है।

वहीं मामले के खुलासे के बाद HIV Positive मरीजों को कानपुर के Antiretroviral Therapay (ART) सेंटर भेजा जा रहा है। बता दें कि ART सेंटर में मरीजों को एंटीवायरस ड्रग्स दी जाएंगी ताकि वायरस का असर कुछ कम हो सके। वहीं प्रदेश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि सरकार मामले की जांच कर रही है। साथ ही ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कारवाई की जाएगी, जोकि बिना लाइसेंस के इंजेक्शन बेच रहे हैं।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares