1 मई 4 मई को जीएसटी काउंसिल की बैठक हो सकती है, लिये जा सकते हैं बड़े फैसले

27th GST Council Meeting

युवाप्रेस न्यूज : जीएसटी काउंसिल की 27वीं बैठक 1 मई 4 मई को होने वाली है जिससे लग रहा है कि इसकी वजह से आपके जीवन में बड़े बदलाव हो सकते हैं। GST Council Meeting में आपके जीवन से जुड़े कई फैसले जो प्रभाव डाल सकते हैं उसके बारे में निर्णय लिया जा सकता है। सरकार के लिए भी यह बैठक महत्वपूर्ण है क्योंकि यह कर्नाटक चुनावों से पहले होने वाली है। जीएसटी काउंसिल की यह बैठक वित्तमंत्री अरुण जेतली की अध्यक्षता में होगी। यह बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए भी कराई जायेगी।

GST Council Meetingमें पैट्रोल-डीजल को लेकर बड़ा फैसला

अब देश भर में पैट्रोल-डीजल के दामों में इतनी अधिक बढ़ोत्तरी देखी जा रही है जैसे इसके दामों में आग लगी हो। पैट्रोल-डीजल से आम लोगों के महीने का बजट काफी गड़बड़ा गया है इसको ध्यान में रखते हुए सरकार कुछ बड़ा कदम उठा सकती है। बता दें कि बहुत समय से पैट्रोल-डीजल को जी.एस.टी. के दायरे में लाने की मांग चल रही है। पैट्रोल-डीजल यदि जी.एस.टी. के दायरे में आ जाती है तो इसकी कीमते कुछ घट सकती।

डिजिटल ट्रांजैक्शन पर कैशबैक

GST Council Meeting में डिजिटल लेनदेन प्रणाली में कैशबैक जैसा आकर्षक लाभ का ओफर मिल सकता है। सरकार इस व्यवस्था को लागू करने के लिए विचार कर रही है। यदि यह प्रस्ताव पास हो जाता है ति डिजिटल तरीके से पेमेंट करने वाले उपभोक्ताओं को अधिकतम खरीद मूल्य अथार्त MRP पर छूट का लाभ प्राप्त होगा।

ऑटो जेनरेशन का उपयोग

जीएसटी काउंसिल बैठक में ऑटो जेनरेट सुविधा पर फैसला आ सकता है इसस नए फॉर्म में टैक्स पेमेंट करने का चालान आसान हो जायेगा। यह इनपुट टैक्स क्रेडिट के अलावा रखा जायेगा। इसके साथ ही कर-दाता के पास क्रेडिट राशि को एडिट करने का ऑप्शन भी मिल जायेगा।

चीनी पर सेस लागू

इस GST Council Meeting में एक ऐसा फैसला आ सकता है जिसकी वजह से आपका मन कड़वा हो सकता है। ऐसा लग रहा है कि सरकार चीनी पर 5 फीसदी सेस ला सकती है। जिस कारण से चीनी के दामों में 15 रुपए प्रति किलो तक मूल्य बढ़ सकता है। बताया जा रहा है कि गन्ना किसानों का लगभग 19,780 करोड़ रुपए बकाया है जिसकी वजह से इसे लागू करके एक फंड प्राप्त होगा और इससे गन्ना किसानों का पैसा चुकाया जाएगा।

सिंगल रिटर्न फॉर्म

इस बार सरकार गुड्स एंड सर्विस टैक्स के दायरे में आने वाले करोड़ों कारोबारियों को जल्द ही एक बड़ी सौगात देगी जिसका फैसला जीएसटी काउंसिल बैठक में लिया जा सकता है। बता जा रहा है कि इससे कारोबारियों को हर महीने 3 रिटर्न फाइल करने की बाध्यता से छट्टी मिल जायेगी। जिसकी वजह से कारोबारियों को बिजनेस करना आसान हो जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *