इंडिगो एयरलाइन्स के विमान में मच्छरों की शिकयत करने पर पैसेंजर को फ्लाइट से उतरकर हिंदुस्तान छोड़ने के लिए दिया।

नई दिल्ली: एयरलाइन्स में हाल ही में इंडिगो (Indigo) और एयर इंडिया (Air India) का मामल सामने आने के बाद अब एक और नया मामला सामने आया  है। इंडिगो के विमान में सफ़र कर रहे पैसेंजर के साथ बदसलूकी की गयी है। विमान में मोजूद पैसेंजर लखनऊ (Lucknow) से बंगलुरु (Bengaluru) जा रहा था। प्लेन का डोर बंद होने के दौरान डॉ. सौरभ राय नाम के एक पैसेंजर ने विमान (Aeroplane)में मच्छरों के  होने की शिकयत की। और मच्छरों को रोकने का उपाय करने के लिए कहा। जीइसे की मोजूद पैसेंजर में से कोई मलेरिया, डेंगू जैसे बीमारी का शिकार न हो जाये। जिसके बाद इंडिगो एयरलाइन्स (Indigo Airlines) के विमान कर्मचारी ने डॉ. सौरभ राय से कहा की लखनऊ में मच्छर होना आम बात है, इस्ससे अगर उन्हें कोई दिक्कत है तो वह हिंदुस्तान छोड़कर जा सकते है। केवल मच्छरों (Mosquitoes) की वजह से ऑब्जेक्शन (objection) होने के कारण ग्राउंड फोर्स सिक्योरिटी को बुलाकर सामान निकाल कर  डॉ. सौरभ को नीचे उतार दिया गया। सिक्योरिटी द्वारा धक्का मुक्की होने की वजह से एयर हॉस्टेस(Air hostess)और सिक्योरिटी (Security) में बातचीत हुई, जिसके बाद पैसेंजर से माफीनामा लिख करने की बात कही गयी,जिस पर पैसेंजर ने विरोध किया तो ऑफिसर्स ने कहा की घटना की उन्हें बहुत सी एक्सप्लेनेशन (explanation) देनी पडती है। जिस पर डॉ. सौरभ राय गुस्सा होकार बोल पड़े की वह कोई टेरेरिस्ट (terrorist)नही है, उन्होंने केवल मछ्चरो की उपाय के लिए कहा था,जिसकी कारण उन्हें flight से नीचे उतर दिया गया और टेरेरिस्ट (terrorist) की तरह से ट्रीट किया जा रहा है।

माफीनामा न लिखने के कारण डॉ. सौरभ राय को इंडिगो विमान से जाने की इजाजत नही मिली और उन्हे 16 हज़ार रूपये का नया टिकेट बुक करवा कर बंगलुरु जाना पड़ा, हालाँकि इंडिगो एयरलाइन्स (Indigo Airlines) कंपनी द्वारा इस पर कोई भी पैसा कम (compensate) नही किया गया। इस बीच एअरपोर्ट पर उनसे हाथापाई भी की गयी, जिसकी उन्होंने विडियो भी बने, लेकिन सिक्योरिटी ने उन्हें पकड़ लिया और तब तक नही छोड़ा जब तक विडियो डिलीट नही हो गयी। दूसरी flight के अरेंजमेंट करने के साथ डॉ. सौरभ की मुलाकात सीनियर ऑफिसर (Senior Officer)  से भी करवाई गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *