सबूत मांगने वालों को ‘सपूत’ के पिता का जवाब : AIR STRIKE में 300 आतंकवादी मारे गए ! अब तो विश्वास करो ?

Written by

पुलवामा आतंकी हमले के करारे प्रतिकार के रूप में भारत, उसकी मोदी सरकार और उसकी वायुसेना ने मिल कर पाकिस्तान में जिस AIR STRIKE को अंजाम दिया, उस पर भारत के ही कुछ नेता केवल और केवल मोदी विरोधी एजेंडा के चलते सबूत मांग रहे हैं।

पाकिस्तान में घुस कर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) में एयर स्ट्राइक और उसमें मारे गए आतंकवादियों की संख्या पूछने वाले नेताओं को करारा उत्तर दिया है उस सपूत के पिता ने, जो इस एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की धरती पर जा गिरा और सीना चौड़ा कर पाकिस्तानी सेना के चंगुल से भारत लौट आया। उसका नाम आप जानते ही हैं। जी हाँ, हम बात कर रहे हैं भारतीय वायुसेना (AIF) के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की, जो एयर स्ट्राइक के बाद घटने घटनाक्रम के दौरान पूरे भारत के लिए HERO बन कर उभरे।

अब भारत के गौरव अभिनंदन वर्तमान के पिता रिटायर्ड एयर मार्शल सिंहाकुट्टी वर्तमान सबूत मांगने वालों के विरुद्ध मैदान में आए हैं। सिंहाकुट्टी वर्तमान ने दावा किया कि पीओके स्थित बालाकोट में हुई एयर स्ट्राइक में 250-300 आतंकी मार गिराए गए होंगे। सिंहाकुट्टी का कहना है, ‘लेज़र गाइडेड स्पाइस 2000 की बम वर्षा में 300 आतंकी मारे गए होंगे।’

सिंहाकुट्टी वर्तमान ने यह दावा चेन्नई में आईआईटी के डिफेंस स्टडीज़ के छात्रों के साथ चर्चा के दौरान किया और कहा, ‘भारतीय वायुसेना ने जिस समय आक्रमण किया था, उस समय बहुत बड़ी संख्या में आतंकवादी कैम्प में थे और संभव है कि बिल्डिंग को कम हानि पहुँची हो, परंतु जब बम देर से फटा होगा, तो बड़ी संख्या में आतंकी मारे गए होंगे। पाकिस्तान के अमेरिकी आयातित एफ-16 विमान और उसकी अमराम मिसाइलें बहुत खतरनाक हैं। हमें बालाकोट जाते समय इसे भटकाना था और यह सुनिश्चित करना था कि पाकिस्तान के विमान दूसरी दिशा में जाएँ। भारतीय वायुसेना इसमें सफल रही और हमने सात विमानों को बहावलपुर की ओर भेजा, जहाँ जैश ए मोहम्मद (JEM) और उसके आका आतंकी मसूद अज़हर का मुख्यालय था। पाकिस्तान को लगा कि हम बहावलपुर पर हमला करने जा रहे हैं और उसने एफ 16 को यहाँ भेज दिया, परंतु उसी समय वायुसेना ने बालाकोट में अपने विमान भेजे। भारतीय वायुसेना के इस व्यूह के आगे पाकिस्ताननी वायुसेना पूरी तरह मात खा गई। पाकिस्तान सतर्क था कि भारत आक्रमण करेगा, इसके बावजूद वह उसे गच्चा देने में हम सफल रहे।’ हालाँकि अपने इस वक्तव्य के साथ रिटायर्ड एयर मार्शल सिंहाकुट्टी ने स्पष्ट भी किया कि एयर स्ट्राइक को लेकर संभव है, उनका आँकलन गलत भी हो।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares