अब कश्मीर में आतंकियों से लोहा नहीं ले सकेगा F-16 के परखच्चे उड़ाने वाला HERO : आखिर क्या हो गया अभिनंदन को ?

भारत की AIR STRIKE के बाद पाकिस्तानी वायुसेना की ओर से किए गए हमले के प्रयास का मुँहतोड़ जवाब देने वालों में सबसे चर्चित चेहरा थे एयर विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान। पाकिस्तान के अमेरिका से ख़रीदे गए शक्तिशाली F-16 लड़ाकू विमान को मिग 21 बायसन के जरिए मार गिराने के बाद पूरे भारत में HEROA बन कर उभरे अभिनंदन वर्तमान की भारतीय वायुसेना (IAF) में वापसी का पूरे देश को इंतजार था, परंतु जो ख़बर आई है, उसके मुताबिक अभिनंदन वर्तमान अब कश्मीर में आतंकियों से लोहा नहीं ले सकेंगे।

दरअसल गुप्तचर एजेंसियों को मिल रहे इनपुट के अनुसार कश्मीर घाटी में अभिनंदन वर्तमान पर लगातार आतंकी हमले का खतरा बना हुआ था। इसलिये गुप्तचर एजेंसियों की रिपोर्ट के आधार पर वायुसेना ने अभिनंदन की तैनाती कश्मीर घाटी से हटा दी है। वायुसेना ने विंग कमांडर अभिनंदन को पश्चिमी कमांड में किसी महत्वपूर्ण एयरबेस पर भेज दिया है, जिसे सुरक्षा की दृष्टि से गोपनीय रखा गया है।

अभिनंदन पूर्णतः स्वस्थ

आपको बता दें कि विंग कमांडर अभिनंदन पूरी तरह से स्वस्थ हैं और उन्हें हाल ही में विमान उड़ाने की भी अनुमति मिल गई थी। अभिनंदन ने अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद घर न जाकर सीधे अपनी बटालियन को जॉइन किया था और तब से वह कश्मीर में ही थे। हालाँकि अभी भी उनके कुछ मेडिकल टेस्ट किये जाने शेष हैं। इस बीच गुप्तचर एजेन्सियों को ऐसे इनपुट मिले कि आतंकियों की ओर से उन पर हमला करने की साजिश रची जा रही है, तो गुप्तचर एजेंसियों की रिपोर्ट के आधार पर वायुसेना ने तत्काल प्रभाव से अभिनंदन का तबादला कर दिया।

उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी को कश्मीर के पुलवामा में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के काफिले पर फिदायीन हमला हुआ था, जिसमें लगभग 40 जवान शहीद हुए थे। इस आतंकी हमले के रिएक्शन में भारत ने 26 फरवरी की सुबह 3.30 बजे पाकिस्तानी वायुसीमा में घुसकर बालाकोट के आतंकी कैंप पर AIR STRIKE की थी। भारत की इस कार्यवाही से हड़बड़ाए पाकिस्तान ने 27 फरवरी की सुबह भारतीय वायुसीमा में प्रवेश करने का प्रयास किया था, परंतु पहले से मुस्तैद भारतीय वायुसेना ने उसके प्रयासों को नाकाम कर दिया और विंग कमांडर अभिनंदन ने अपने मिग-21 बाइसन लड़ाकू विमान से पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया। इसके बाद अभिनंदन के विमान को पाकिस्तानी मिसाइल सिस्टम ने मार गिराया था, हालांकि अभिनंदन पैराशूट के सहारे विमान से कूद पड़े थे। हवा के तेज झौंकों के कारण अभिनंदन पाकिस्तान के कब्जेवाले कश्मीर में पहुँच गये थे, जहां उतरने पर वह पाकिस्तानी सेना के हाथों पकड़े गये थे। हालाँकि भारत के कूटनीतिक दबाव में दो दिन के भीतर ही पाकिस्तान को अभिनंदन को छोड़ना पड़ा था। 1 मार्च को अभिनंदन पाकिस्तान से रिहा होकर भारत आ गये थे, परंतु वह घायल होने से उपचार के लिये उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed