वाहन चालकों के लिए आ रहा एक और नया नियम, 1 अप्रैल-2020 से होगा लागू

Written by

रिपोर्ट : तारिणी मोदी

अहमदाबाद 7 दिसंबर, 2019 (युवाPRESS)। मोदी सरकार ने वर्ष 2019 में परिवहन से जुड़े कई नियमों और कानूनों में बदलाव किये हैं। अब जब दिसंबर तेजी से समाप्ती की ओर बढ़ रहा है सरकार एक नया नियम लेकर आई है, जिसे 2020 में लागू किया जाएगा। दरअसल केन्द्रीय सरकार ने एक आदेश जारी करते हुए घोषणा की है कि अब वाहनों के दस्तावेजों जैसे पंजीकरण प्रमाणपत्र (RC), ड्राइविंग लाइसेंस (DL), प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र (PUC) समेत अन्य सभी दस्तावेजों को अपने मोबाइल नंबर से लिंक कराना होगा। सरकार यह नया नियम 1 अप्रैल, 2020 से लागू करेगी। इसकी अधिसूचना जारी करते हुए केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने लोगों से उनके सुझाव भी मांगे हैं।

29 दिसंबर, 2019 तक लोग अपने सुझाव सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय को भेज सकते हैं। मोबाइल नंबर लिंक कराने की घोषणा गत 4 दिसंबर, 2019 को आयोजित केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में की गई। कैबिनेट की यह बैठक पर्सनल डेटा प्रोटेक्शन बिल (Personal Data Protection Bill 2019) को लागू करने के लिए बुलाई गई थी। इस बिल के लागू होने के बाद से ही पब्लिक और प्राइवेट कंपनियों के लिए पर्सनल डेटा को रेगुलेट करने की व्यवस्था शुरु हो चुकी है।

क्या होगा लाभ ?

वाहन के दस्तावेजों से मोबइल नंबर को जोड़ने का उद्देश्य है वाहन चोरी होने पर सही और सटीक जानकारी जुटाना। सरकार के अनुसार मोबाइल लिंक होने से वाहन की चोरी करने वालों और ख़रीदने वालों पर लगाम लगाई जा सकेगी। साथ ही किसी भी व्यक्ति की लोकेशन का भी पता चल सकेगा। केन्द्र सरकार और अन्य सरकारी संस्थानों में वाहन चालक का मोबाइल नंबर होने से पुलिस के लिए दुर्घटना होने, दुर्घटना स्थल और दुर्घटना करने वाली वाहन का पता लगाना भी आसान हो जाएगा। दिल्ली और गुजरात के वाहन चालकों से इस नये नियम की शुरुआत की जाएगी। इसके बाद यूपी-बिहार समेत पूरे देश में यह नियम लागू कर दिया जाएगा।

कैसे कराएँ लिंक ?

नियम के तहत एक मोबाइल नंबर पर अधिकतम पाँच वाहन ही रजिस्टर होंगे। नए वाहन के पंजीकरण और ड्राइविंग लाइसेंस के मामलों में वाहन चालकों को आरटीओ में जाकर मोबाइल नंबर को लिंक कराना होगा, वहीं पुराने वाहन मालिकों या डीएल धारकों को स्वयं ऑनलाइन या आरटीओ कार्यालय जाकर मोबाइल नंबर अपडेट कराना होगा। ऑनलाइन RC या DL से मोबाइल नंबर जोड़ने के लिए आपको केन्द्रीय परिवहन विभाग की वेबसाइट https://sarathi.parivahan.gov.in/sarathiservice1/stateSelection.do पर जाना होगा। इसके बाद आपको लॉग इन आईडी बनाना होगा। इसके बाद वाहन कैटेगरी के अंतर्गत ‘वाहन पंजीकरण संबंधी सेवाएँ’ पर क्लिक करना होगा। फिर आप अपने वाहन के पंजीकरण सर्टिफिकेट में मोबाइल नंबर को शामिल कर सकते हैं। इसके लिए आपको वाहन पंजीकरण संख्या, इंजन नंबर और चेसिस नंबर की आवश्यकता होगी। केंद्र सरकार का वाहन एप्लिकेशन, वाहन पंजीकरण संबंधी सेवाओं के लिए है। इसके अतिरिक्त आप सारथी वेबसाइट पर जाकर भी अपने ड्राइविंग लाइसेंस में मोबाइल नंबर लिंक कर सकते हैं।

Article Tags:
· · · · · ·
Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares