अटलजी के 95वें जन्म दिन पर मोदी सरकार ने 8,350 गाँवों को दिया ये गिफ्ट…

रिपोर्ट : तारिणी मोदी

अहमदाबाद 25 दिसंबर, 2019 युवाPRESS। भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की 95वीं जयंती के अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में अटल भूजल योजना की शुरुआत की। दिल्ली के विज्ञान भवन में हुए एक कार्यक्रम में इस परियोजना को लॉन्च किया गया। इस योजना के जरिए भूजल का प्रबंधन किया जाएगा और हर घर तक स्वच्छ पीने के पानी को पहुँचाने की योजना पर काम किया जाएगा। मंगलवार को पीएम मोदी के नेतृत्व में हुई कैबिनेट मीटिंग में इस योजना को मंजूरी दी गई है। हालाँकि अटल भूजल योजना को 12 दिसंबर, 2019 को ही वर्ल्ड बैंक की ओर से मंजूरी मिली चुकी है। कहा जा रहा है कि 6,000 करोड़ रुपये की लागत वाली इस परियोजना का 50 प्रतिशत खर्च भारत सरकार करेगी, जबकि बाकी 50 प्रतिशत हिस्सा वर्ल्ड बैंक की ओर से खर्च किया जाएगा।

सर्वप्रतम इस परियोजना को जल संकट से प्रभावित उत्तर प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, राजस्थान और महाराष्ट्र में लागू किया जाएगा। इन 7 राज्यों के 78 जिलों में 8,300 से ज्यादा ग्राम पंचायतों में भूजल की स्थिति बहुत ही चिंताजनक है। जल स्तर में सुधार के लिए सरकार जागरूकता अभियान भी चलाएगी। अन्य राज्यों का चयन भूजल की कमी, प्रदूषण और अन्य मानकों को ध्यान में रखते हुए किया गया है। वहीं सरकार का दावा है कि इस योजना से किसानों की आय दोगुनी करने में मदद मिलेगी। 8,350 गांवों को लाभ मिलेगा। सरकार के मुताबिक पानी की समस्या से निपटने के लिए अटल भूजल योजना पर पांच साल में 6,000 करोड़ रुपये का खर्च होगा।ग्राम पंचायत स्तर पर जल सुरक्षा के लिए काम किया जाएगा। भूजल के संरक्षण के लिए शैक्षणिक और संवाद कार्यक्रमों को संचालित किया जाएगा। साथ ही इस स्कीम में आम लोगों को भी शामिल किया जाएगा। वाटर यूज़र असोसिएशन, मॉनिटरिंग और भूजल की निकासी के डेटा संकलन की सहायदा से इस स्कीम को आगे बढ़ाया जाएगा।

लॉन्चिंग के अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इससे वाजपेयी जी का सपना पूरा हुआ। पानी का विषय अटल जी के करीब था। पानी का संकट सबके लिए चिंता का विषय है। न्यू इंडिया को हमें जल संकट की हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार करना है। इसके लिए हम पांच स्तर पर एक साथ काम कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि पानी का विषय अटल जी के लिए बहुत महत्वपूर्ण था, उनके हृदय के बहुत करीब था। अटल जल योजना हो या फिर जल जीवन मिशन से जुड़ी गाइडलाइंस, ये 2024 तक देश के हर घर तक जल पहुंचाने के संकल्प को सिद्ध करने में एक बड़ा कदम हैं।

You may have missed