राज्यसभा में अमित शाह- ‘पकौड़ा बेचने में शर्म की बात नहीं’

Written by
BJP president Amit Shah debut speech Rajya Sabha; better to sell pakoda rather unemployment.

नई दिल्ली। 5 फरवरी को राज्यसभा में नव नियुक्त सदस्य और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (BJP President Amit Shah) ने अपना डेब्यू भाषण दिया। अपने भाषण में अमित शाह ने कांग्रेस सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने कहा कि हमें विरासत में कुछ नहीं मिला। अगर कुछ मिला तो वह कर्ज का खजाना था। कांग्रेस सरकार ने इतना बड़ा गड्डा कर दिया था कि अभी तक हमारी सरकार उस गड्डे को भर रही है।

UPA शासनकाल में जमकर भ्रष्टाचार हुआ

2014 लोकसभा चुनाव में मिले पूर्ण बहुमत को लेकर उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार किसी गैर कांग्रेसी पार्टी को जनता ने बहुमत दिया है। पूर्ण बहुमत के बावजूद हमने NDA के सहयोगियों के साथ मिलकर सरकार बनाई। कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि UPA शासनकाल में जमकर भ्रष्टाचार हुआ।

3.3 करोड़ परिवार को गैस कनेक्शन

मोदी सरकार की उपलब्धियों को लेकर Amit Shah ने कहा कि साढ़े तीन साल में हमारी सरकार ने 3.3 करोड़ से ज्यादा गरीब परिवारों को गैस कनेक्शन देने का काम किया है। पीएम मोदी की अपील पर देश के 1.3 करोड़ लोगों ने गैस सब्सिडी लेना छोड़ दिया। यह जनता का सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति विश्वास है।

31 करोड़ लोगों के बैंक अकाउंट खुलवाए

आगे उन्होंने कहा कि देश के लोगों के पास बैंक अकाउंट तक नहीं थे। मोदी शासनकाल में जन धन योजना के तहत 31 करोड़ लोगों के बैंक अकाउंट खोले गए। आज हर परिवार के पास बैंक अकाउंट है। सरकार की तमाम योजनाओं का लाभ उन्हें सीधे अकाउंट में मिल रहा है।

50 करोड़ लोगों को 5 लाख का हेल्थ इंश्योरेंस

गरीबों के स्वास्थ्य का जिक्र करते हुए Amit Shah ने कहा कि पिछले साढ़े तीन सालों में 13 करोड़ लोगों को लाइफ इंश्योरेंस दिया गया। सस्ते दरों पर गरीबों को दवाई मिल सके इसके लिए जन औषधि केंद्र के माध्यम से 800 से अधिक दवाइयां बहुत कम दरों पर उपलब्ध करवाई जा रही है। बजट 2018 में सरकार ने 50 करोड़ लोगों को 5 लाख का बीमा देने का ऐलान किया है। दुनिया में ऐसी कोई लोकतांत्रिक सरकार नहीं है जिसने जनता के लिए इतना बड़ा काम किया हो

पकौड़ा बेचना बेरोजगार रहने से बेहतर

सोशल मीडिया (Social Media) पर पकौड़ेवाला खूब ट्रेंड कर रहा है। इस मुद्दे पर बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि भीख मांगने से अच्छा है कि कोई शख्स मेहनत से पैसा कमा रहा है। बेरोजगारी से अच्छा है पकौड़ा बेचकर मेहनत के पैसे कमाना। आज एक चायवाला देश का प्रधानमंत्री (Narendra Modi) है ऐसे में पकौड़ा बेचने वाला बिजनेसमैन क्यों नहीं बन सकता है।

Article Tags:
· · ·
Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares