गौ रक्षा और गौ सेवा ही सर्वोपरि है : अनंत गोस्वामी जी

Written by

श्री बांके बिहारी मंदिर के मुख्य सेवायत श्री अनंत गोस्वामी जी को राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष धर्मार्थ प्रकोष्ठ राष्ट्रीय कार्यकारिणी धर्म नियुक्त किया गया। अनंत गोस्वामी जी ने बताया है कि राजस्थान में गौ-सेवा और सनातन धर्म के लिए प्रचार प्रसार का पूरा प्रयास करेंगे। राष्ट्रीय मंत्री भगवान सिंह तारपुरा, राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष रामदेव उपाध्याय, शिवरतन जाजड़ा, जिला प्रभारी शिव पांचाल, पंडित पवन तिवारी धर्मार्थ प्रकोष्ठ कोटा चेतन राठोर प्रदेश उपाध्यक्ष ने हर्ष व्यक्त किया और बधाई दी।

श्री अनंत गोस्वामी जी ने बताया राष्ट्र के विकास के लिए चार वस्तुओं की आवश्यकता होती है- शिक्षा, स्वास्थ्य, यातायात व संस्कृति। जिस दिन हम गो-सेवा को अपना पहला कर्तव्य मान लेंगे, उसी दिन देश का विश्वगुरु के पद पर फिर से स्थापित होना तय हो जाएगा। जिस स्थल पर गाय का निवास होता है, वह स्थल तीर्थस्थल बन जाता है। उन्होंने कहा कि गाय हमारी माता है, इन्हें नियमित प्रात: उठकर प्रणाम करना चाहिए। अगर गाय माता के लिए कुछ करना है तो उनके संरक्षण व बेहतर भरण पोषण का इंतजाम करने का प्रयास करना चाहिए।

गोस्वामी जी ने गौ रक्षा के लिए बहुत सारे प्रयास  कर रहे हैं जिसका नतीजा है कि वर्तमान में बहुत सारे लोग गौ सेवा में जुट रहे हैं और गौ रक्षा के भी प्रयास  कर रहे हैं।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares