मजीठिया के केस के कारण, केजरीवाल ने मांगी माफी

Written by
Arvind Kejariwal Apologies

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के द्वारा शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से माफ़ी (Arvind Kejariwal Apologies) मांगने पर निराश हुए कई नेताओ में से पंजाब में आम आदमी पार्टी (AAP) के अध्यक्ष और पार्टी सांसद भगवंत मान ने अपना पद छोड़ने का इस्तीफा दे दिया है। हालाँकि वह पार्टी में अभी भी बने हुए है। आम आदमी पार्टी (AAP) द्वारा पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले पंजाब राज्य में ड्रग्स तस्करी का आरोप लगाकर एक बहुत बड़ा मुद्दा बना दिया था। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अकाली दल के वरिष्ठ नेता बिक्रम मजीठिया को ड्रग्स के कारोबार में साथ देने के आरोप लगाकर कठघरे में खड़ा कर दिया था।

जिसके चलते शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने मानहानि का मुकदमा Arvind Kejriwal पर कर दिया था। जैसे ही केजरीवाल को केस उनके हाथो से निकलता हुआ दिखाई दे रहा था, वैसे ही उन्होंने मान लिया कि उनके द्वारा लगाये गये आरोपों का कोई मतलब नही था और इसके लिए उन्होंने आम आदमी पार्टी AAP द्वार लगाये गये आरोपों के लिए मजीठिया से माफ़ी (Arvind Kejariwal Apologies) मांग ली है, साथ ही केस को वापस लेने की अपील भी की है।

दिल्ली सरकार के मुताबिक केजरीवाल को हर दिन अदालत में कई घंटे बर्बाद करने पड़ते है,जिसका असर उनके काम पर पड़ता है। इसलिए वह सभी मुक़दमे (case) खत्म करना चाहते है।

केजरीवाल के ऊपर मानहानि के आरोप पहली बार नही बल्कि इससे पहले भी अरुण जेटली, नितिन गडकरी द्वारा लगाये हुए है, जिसे ख़त्म करने के लिए वह मानहानि के आरोप लगाये हुए सभी नेताओ से बात करंगे।

Arvind Kejriwal द्वारा मजीठिया को लिखे गये माफीनामा (Arvind Kejariwal Apologies) में लिखा गया है, कि ‘में समझ गया हु की AAP द्वरा लगाये गये सभी आरोपओ का कोई मतलब नही है, इसलिए में आपके खिलाफ सभी आरोप वापस ले रहा हु, और में आपसे इसके लिए माफ़ी भी मांगता हु।’
भगवंत मान ने सोशल मीडिया के जरिये फेसबुक पर पंजाबी और अंग्रेजी भाषा में लिखा है कि, ‘में AAP के पद छोडकर इस्तीफा दे रहा हु, लेकिन मेरी लड़ाई पंजाब में सभी drug माफिया के खिलाफ जारी ररहेगी’

पिछले साल मई में कपिल मिश्रा के आरोपों में घिरे अरविंद केजरीवाल द्वारा फैसला लेते हुए भगवंत मान को पंजाब का संयोजक बनाया गया था। साथ ही इन्होने भगवंत मान को शराब पीने पर काबू रखने के लिए भी कहा था। इससे पहले भी भगवंत द्वारा शराब पीकर कई बवाल कड़े हो चुके है।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares