आसाराम की गुनाहों पर जोधपुर की सेंट्रल जेल से आज सुनाया जायेगा फैसला

Asaram Bapu rape case

युवाप्रेस: आसाराम केस (Asaram Bapu rape case) पर बुधवार को फैसला सनाया जायेगा। लगभग 5 सालों से आसा राम जेल में बंद है। इस समय आसाराम जोधपुर की सेंट्रल जेल में बंद है। इन्हे 31 अगस्त 2013 की रात को इंदौर से नाबालिग से रेप करने के केश में गिरफ्तार किया गया था। उस समय नाबालिग लड़की आसाराम के छिंदवाड़ा गुरुकुल में पढ़ती थी । लगभग इन 5 सालों में आसाराम के समर्थकों ने आसाराम बापू को बेल देने के लिए पूरा जोर लगा दिया पर उसे बाहर नहीं निकाल पाये। आसाराम उस समय से ही बेल को तरस रहे है। बेल के लिए आसाराम ने सेशन कोर्ट के अलावा सुप्रीम कोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया लेकिन उसे बेल नहीं मिल सकी। कई बार तो उसने बीमारी और उम्र का भी हवाला दिया लेकिन कोर्ट ने उसके इन दलीलों पर कोई ध्यान नहीं दिया। जब से केस चल रही है उस समय से अब तक आसाराम के खिलाफ 3 गवाहों की रहस्य मय मौत हो चुकी है। ऐसा लग रहा है कि गवाहों की मौत में आसाराम के समर्थकों का हाथ हो सकता है।

बता दें कि नाबालिग पीड़ित लड़की उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की है जिसने मुख्य तौर पर आसाराम पर जोधपुर के बाहरी इलाके में स्थित उसके आश्रम में रेप होने का आरोप है। आसाराम का यह गुनाह पॉक्सो एक्ट के अंदर ही आता है और इन नियम में हाल ही में बदलाव किया गया है जिसके अनुसार यदि Asaram Bapu पर rape case साबित हो जाता है तो उसको फांसी होगी। कुछ सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि आसाराम पर यह नियम लागू नहीं होगा क्योंकि अपराध जिस समय घटित होता है उस समय के प्रावधानों के अनुसार ही दोषी को सजा दिया जाता है। वैसे नय नियम में यह तय नहीं किया गया है कि यह नियम केवल नय घटित मामलों पर ही लागू होगी इसलिए पूर्ण रूप से यह तय नहीं किया जा सकता की आसाराम को फांसी होगी या नहीं।

आसाराम पर किन-किन धाराओं के तहत केस दर्ज (Asaram Bapu rape case) हैं इसकी कुछ जानकारियां –

आसाराम पर सबसे पहले एफआईआर दर्ज 19 अगस्त 2013 को दिल्ली के कमलानगर थाने में हुई थी। जो कि मामला को दर्ज आईपीसी की धारा 342, 376, 354-ए, 506, 509/34, जेजे एक्ट 23 व 26 और पोक्सो एक्ट के तहत की गई थी। Asaram Bapu rape case में 8 धाराओं के तहत मामला को दर्ज किया गया था। जिस पर कोर्ट बुधवार 25 अप्रेल को फैसला सुनायेगी। इन धाराओं के तहत यदि दोष सिध्द हो जाता है तो आसाराम को उम्रकैद की सजा हो सकती है जिसके अनुसार उन्हें 8 साल और जेल में बिताना होगा। जेल नियमानुसार उम्रकैद की सजा होने पर दोषी व्यक्ति को अधिकतम 14 सालों तक जेल में रखना होता है। आसाराम पहले ही 5 साल जेल में बिता चुके है इसलिए इन्हें 8 साल और जेल में बिताना पड़ सकता है। यदि आसाराम को 3 साल से ज्यादा की सजा होती है तो उसे दूबारा से जमानत के लिए हाईकोर्ट से अपील करनी होगी।

Asaram Bapu rape case में अब तक क्या क्या हुआ –

1. 15 अगस्त 2013 को जोधपुर स्तिथ मणाई गांव के पास आसाराम ने फार्म हाउस में एक नाबालिग छात्रा का रेप किया जिसके कारण आसाराम पर मुकदमा दर्ज हुआ।

2. पीड़िता और उसके माता-पिता ने 19 अगस्त 2013 को नई दिल्ली के कमला नगर पुलिस थाना में आसाराम के खिलाफ रेप का मामला दर्ज करवाया।

3. 19 अगस्त 2013 को ही पुलिस ने 1 बजकर 5 मिनट पर पीड़िता का मेडिकल जांच कराया और जिसके बाद मामला (Asaram Bapu rape case) को दर्ज कर लिया गया।

4. 20 अगस्त 2013 को धारा 164 के तहत पीड़िता के बयान को दर्ज कराया गया। इसके बाद कमला नगर पुलिस थाना ने दर्ज एपआईआर को जोधपुर ट्रान्सफर कर दिया।

5. जोधपुर पुलिस ने 21 अगस्त 2013 को आसाराम के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया और आसाराम पर इसके बाद आसाराम के खिलाफ आईपीसी की धारा 342, 376, 354-ए, 506, 509/34, जेजे एक्ट 23 व 26 और पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ।

6. जोधपुर पुलिस की टीम ने 31 अगस्त 2013 को मध्य प्रदेश के इंदौर जिले से आसाराम को गिरफ्तार कर लिया।

7. कोर्ट में पुलिस द्वारा आसाराम के खिलाफ 6 नवम्बर 2013 चालान पेश हुआ जिसके बाद 29 नवम्बर 2013 को कोर्ट ने संज्ञान लिया।

8. 13 फरवरी 2014 को आरोपी आसाराम और उसके सहआरोपी शरद, शिल्पी, प्रकाश के खिलाफ कोर्ट ने आरोप तय कर दियें।

9. जब से लेकर कई बार कोर्ट में इस केस को लेकर बहस हुई और अब 25 अप्रेल 2018 को कोर्ट द्वार इस पर फैसला आयेगा।

10. 25 अप्रेल 2018 को Asaram Bapu rape case के फैसले को लेकर आज पूरे देश में जहां जहां पर आसाराम की संस्था है उस उस शहर में सुरक्षा के कड़े इंतेजाम कर दिये गये हैं ताकि फैसले को लेकर उसके समर्थक कहीं हंगामा न करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *