ट्विटर युद्ध में महबूबा को BOLD कर देने वाले गंभीर ने कश्मीर में जाकर हमला बोला, ‘130 करोड़ जनता को ब्लॉक नहीं कर सकतीं’

पूर्व क्रिकेटर और हाल ही में भाजपा में शामिल होकर खिलाड़ी से नेता बने आक्रमक स्वभाव वाले गौतम गंभीर ने जम्मू-कश्मीर के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के साथ TWITTER पर भिड़ने के बाद गुरुवार को उन्हीं के घर में जाकर उन्हें जम कर लताड़ लगाई। क्रिकेट की पिच पर आगे बढ़कर सिक्सर लगाने वाले गौतम ने राजनीतिक पिच पर भी फ्रंटफुट पर जाकर सियासी शॉट लगाया।

जम्मू-कश्मीर में ऊधमपुर में रैली को संबोधित करते गौतम गंभीर।

जम्मू के ऊधमपुर लोकसभा क्षेत्र में शामिल रामनगर में एक चुनावी रैली को सम्बोधित करते हुए भाजपा नेता गौतम गंभीर ने ट्विटर पर उन्हें ब्लॉक कर देने वाली पीपुल्स डेमोक्रैटिक पार्टी (PDP) की नेता महबूबा मुफ्ती और नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष उमर अब्दुल्ला को खूब खरी-खरी सुनाई।

गौतम गंभीर ने कहा कि ‘महबूबा मुफ्ती मुझे ट्विटर पर ब्लॉक कर सकती हैं, परंतु इस देश की 130 करोड़ जनता को ब्लॉक नहीं कर सकतीं।’ गौतम ने कहा कि इस देश में एक लहर चल रही है, जिसके साथ वह (महबूबा) नहीं हैं। गौतम ने कहा कि 2014 में विकास के नाम की लहर थी, जो 2019 में सुनामी बन चुकी है। गौतम गंभीर ने उमर अब्दुल्ला पर भी निशाना साधते हुए गौतम गंभीर ने कहा कि इस देश में दो प्रधानमंत्री नहीं हो सकते।

गौतम गंभीर ने कहा कि ‘महबूबा मुफ्ती मुझे ट्विटर पर ब्लॉक कर सकती हैं, परंतु इस देश की 130 करोड़ जनता को ब्लॉक नहीं कर सकतीं।’ गौतम ने कहा कि इस देश में एक लहर चल रही है, जिसके साथ वह (महबूबा) नहीं हैं। गौतम ने कहा कि 2014 में विकास के नाम की लहर थी, जो 2019 में सुनामी बन चुकी है। गौतम गंभीर ने उमर अब्दुल्ला पर भी निशाना साधते हुए गौतम गंभीर ने कहा कि इस देश में दो प्रधानमंत्री नहीं हो सकते।

जम्मू-कश्मीर में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में आगामी 18 अप्रैल को मतदान होगा, जिसके लिये अभी जोर-शोर से चुनाव प्रचार चल रहा है। कुछ दिन पहले ही भाजपा में शामिल हुए गौतम गंभीर को भाजपा की ओर से दिल्ली में लोकसभा चुनाव का टिकट दिये जाने की अटकलें लगाई जा रही हैं।

उल्लेखनीय है कि उमर अब्दुल्ला के जम्मू-कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री की वकालत करने वाले बयान के बाद गौतम गंभीर ने उनके विरुद्ध ट्विटर पर टिप्पणी की थी, जिस पर उमर ने भी पलटवार किया था। इसके बाद दोनों के बीच ट्विटर युद्ध छिड़ गया था। कुछ दिन पहले महबूबा मुफ्ती के कश्मीर को लेकर दिये गये एक बयान को लेकर गंभीर ने उनके विरुद्ध भी ट्विटर पर मोर्चा खोल दिया था, जिससे उनके साथ भी ट्विटर पर जमकर बहस हुई थी। इसके बाद महबूबा ने गौतम को ब्लॉक कर दिया था। इसका जवाब देने का अवसर मिला तो गंभीर आज चूके नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed