भाजपा का फुलप्रूफ प्लान : PM मोदी 125 रैलियाँ और रोड शो कर विरोधियों पर आंधी बन कर बरसेंगे

Written by

भाजपा से जुड़े उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार भाजपा लोकसभा चुनाव में जोरदार प्रचार अभियान चलाएगी और उसके सबसे बड़े स्टार प्रचारक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी होंगे । मोदी का मजबूत साथ निभाएँगे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह । पार्टी ने अपने प्रचार अभियान को अंतिम रूप देने का कार्य शुरू कर दिया है ।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने लोकसभा चुनाव 2019 में फिर से मोदी सरकार बनाने के लिए कमर कस ली है और उसने इसके लिए फुलप्रूफ प्लान तैयार किया है, जिसके तहत विपक्ष पर हल्लाबोल किया जाएगा ।

सूत्रों ने बताया कि भाजपा आम चुनावों में दोबारा सत्ता पर काबिज होने के लिए देश भर में रैलियों और रोड शो का आयोजन करेगी । इसमें अकेले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी करीब 125 रैलियाँ और रोड शो कर विपक्ष के आरोपों की धज्जियाँ उडाते हुए जनता को रिझाने का प्रयास करेंगे । प्रधानमंत्री की सबसे ज्यादा रैलियाँ देश के सबसे अधिक लोकसभा सीटों वाले राज्य उत्तर प्रदेश में होंगी । साथ ही मोदी पश्चिम बंगाल पर भी विशेष फोकस करेंगे, जहाँ भाजपा सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (TMC), कांग्रेस और वाम दलों को पीछे छोड़ मुख्य विपक्ष बनने की ओर अग्रसर है । भाजपा ममता बैनर्जी के इस गढ़ में अधिक से अधिक सेंध लगाने के लिए मोदी की कई रैलियाँ पश्चिम बंगाल में आयोजित करेगी, तो उत्तर प्रदेश में मोदी 20 से अधिक रैलियाँ कर 2014 का प्रदर्शन दोहराने की कोशिश करेंगे ।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 125 रैलियों और रोड शो के जरिए 543 लोकसभा बैठकों में से 500 बैठकों को कवर कर लेंगे । उनका कार्यक्रम इसी तरह तैयार हो रहा है, जिसमें वे सात चरणों में होने वाले चुनावों के दौरान प्रत्येक चरण में छोटे से छोटे राज्य में भी कम से कम एक रैली अवश्य कर सकें । बड़े राज्यों में मोदी की 2 से 3 जनसभाएँ होंगी ।

लोकसभा चुनाव 2019 का आरंभ 11 अप्रैल को होने वाले प्रथम चरण के मतदान के साथ होगा । इस प्रथम चरण में 20 राज्यों की 91 सीटों के लिए वोटिंग होनी है । इन राज्यों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 29 या 30 मार्च से जनसभाओं, रैलियों और रोड शो के जरिए कार्पेट बॉम्बिंग प्रचार अभियान छेड़ेंगे ।

चुनावों में राष्ट्रीय मुद्दों पर केन्द्रित रखने की कवायद

भाजपा की रणनीति यही है कि वह लोकसभा चुनावों को राष्ट्रीय मुद्दों पर केन्द्रित रखने का प्रयास करेगी, क्योंकि राज्यों के स्थानीय मुद्दे यदि हावी हुए, तो स्थानीय सांसदों, सरकारों और नेताओं के विरुद्ध सत्ता विरोधी लहर से भाजपा का गणित गड़बड़ा सकता है । इसके लिए भाजपा ने स्थानीय मुद्दों को दरकिनार रखने के लिए चुनाव प्रचार में ‘पहला वोट मोदी को’ अभियान चलाने का निर्णय किया है । इसके अंतर्गत देश के युवा मतदाताओं से सीधा संवाद भी किया जाएगा । दो माह के इस चुनाव अभियान में भाजपा के केन्द्रीय नेता हर 15 दिन में एक साथ 150 से 200 स्थानों पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विरोधियों पर कार्पेट बॉम्बिंग करेंगे ।

भाजपा ने तैयार किया कलस्टर

भाजपा ने 7 चरणों के मतदान के दौरान सीटों का कलस्टर तैयार किया है । प्रत्येक कलस्टर में लोकसभा की 3 से 4 सीटें शामिल की गई हैं । कलस्टर की दृष्टि से पीएम मोदी की उत्तर प्रदेश में 20, बिहार में 10, पश्चिम बंगाल में 10 से 11, ओडिशा में 5 रैलियाँ आयोजित होने की संभावना है । कुछ राज्यों में पीएम मोदी 2-2 या 3-3 बार जनसभा करेंगे । इस तरह मोदी की रैलियों का आँकड़ा 100 से 125 तक पहुँच जाएगा ।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares