COVID 19 के कारण BSE SME Listing Eligibility Norms संशोधित किए गए

Written by

Bombay Stock Exchange(BSE)ने Notice No. 20200522-21 Dated 22ndMay, 2020 Covid-19 के मद्देनजर “Relaxation in Eligibility Criteria for SMEs” से संबंधित अधिसूचना जारी की। यह Circular, BSE Circular दिनांक 19 अप्रैल 2012 में संशोधित करने के लिए जारी किया गया है, BSE SME Platform पर listing करने की मांग करने वाली कंपनियों के लिए Eligibility Criteria और साथ ही BSE Ltd. के मुख्य प्लेटफ़ॉर्म पर SME Platform से Migration के लिए दिशानिर्देश के लिए जारी किया गया है।

COVID-19 महामारी के कारण  लगाए गए Lockdown के मद्देनजर MSME को चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों का सामना करना पड़ रहा है। MSME की परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए  यह निर्णय लिया गया है। यह 1 जून, 2020 से लागू होगा।

BSE SME Platform पर सूचीबद्ध करने के लिए निम्नलिखित Eligibility criteria नीचे दिए गए अनुसार हैं।

Criteria Existing provisions Revised Norms (Upcoming Provisions)
Net Tangible Assets Rs. 3 crores  

Rs. 1.5 crores

 

Track Record Company या Partnership/ Proprietorship/LLP Firm या Company में परिवर्तित की गई Firm का कम से कम 3 साल का संयुक्त Track Record होना चाहिए।

या

 

यदि यह तीन साल तक अपना संचालन पूरा नहीं करता है, तो Company/ Partnership/Proprietorship/LLP Firm को Banks या Financial Institutions या Central या State Government द्वारा Funded किया जाना चाहिए या Group Company को मुख्य रूप से या तो दो साल के लिए listed किया जाना चाहिए एक्सचेंज के Main Board या SME Board में।

 

Company या Firm या जिस फर्म को कंपनी में परिवर्तित किया गया है, उसके पास Combined Positive Cash Accruals from Operation(Earnings before depreciation and tax) और उसकी Net Worth Positive होनी चाहिए।

Company या Partnership/ Proprietorship/ LLP Firm या Company में परिवर्तित की गई Firm का कम से कम 3 साल का संयुक्त Track Record होना चाहिए।

या

 

यदि यह तीन साल तक अपना संचालन पूरा नहीं करता है, तो Company/Partnership/ Proprietorship/LLP Firm को Banks या Financial Institutions या Central या State Government द्वारा Funded किया जाना चाहिए या Group Company को मुख्य रूप से या तो दो साल के लिए listed किया जाना चाहिए एक्सचेंज के Main Board या SME Board में।

 

कंपनी या कंपनी में परिवर्तित की गई कंपनी या फर्म को पिछले तीन वर्षों में से किसी भी वर्ष से Combined Positive Cash  Accruals (Earnings before depreciation and tax)होना चाहिए और इसकी Net Worth Positive होनी चाहिए।

NBFC (Non Banking Financial Companies) और Broking Companies के लिए मौजूदा दिशानिर्देशों में कोई बदलाव नहीं होगा।NBFC (Non Banking Financial Companies) और Broking Companies के लिए BSESME platform पर Listing के लिए मौजूदा दिशानिर्देशों में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

Article Tags:
·
Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares