जानिए कैसे रोकी जा सकती हैं Chain Snatching की घटना?

Written by
Chain Snatching

नई दिल्ली- भारत एक मात्र ऐसा देश है जहां युवतियों के आभूषण का काफी महत्व होता था। शादी ब्याह के समय लड़की को सोने चांदी के काफी घहने चढ़ाये जाते हैं। अक्सर महिलाये घहने पहनना पसंद करती हैं। इसके साथ ही गहने महिलाओं की सुन्दरता में चार चाँद भी लगा देते हैं। ऐसे में महिलाए घहने पहनकर बहार आती जाती हैं, तो कुछ अपराधी लोग इसका फायदा उठाकर उनके चैन, अंगूठी, एअरिंग्स झपटा मरकर Chain Snatching जैसी घटना को अंजाम देते हैं।

आज के समय में झपटा मारकर छीन (Chain Snatching) लिया जाना तो आम बात हो गयी हैं। लेकिन ये कहना भी गलत नहीं होगा की यह कही न कही बेरोज़गारी को भी दर्शाता हैं। लेकिन बेरोज़गारी का मतलब यही भी नही हैं कि, लूटमारी की जाए।

सड़क पर चलती भीड़ में यह पहचान पाना बेहद मुशिक्ल हैं कि कौन सा व्यक्ति कैसा हैं और कैसा नहीं। बाइक, स्कूटर पर सवार कुछ लड़के पैदल, बाइक, ऑटो रिक्शा पर सवारी करती हुई महिलाओं से छीना झपटी कर लेते हैं, तो कुछ गुंडागर्दी कर  बन्दुक तानकर छीन लेते हैं, और कुछ बदमाश तो घर में आकर ही घटना को अंजाम दे जाते हैं। छीना झपटी में केवल पर्स, मोबाइल, घहने आदि ही नहीं छेने जाते बल्कि छीना झपटी के कारण पीड़ित महिलाओं के गले भी कट जाते हैं, तो कुछ अपनी जान से ही बाज़ी हार जाती हैं। ऐसे में कुछ ही लोग होते हैं जो इन पीडित महिलायों का सहयोग देते हैं, और उन बदमाशों के घटनाओ को अंजाम देने से रोक देते हैं।

इन्ही सब छीना झपटी (Chain Snatching) के चलते आज के समय में महिलाओं ने गोल्ड, सिल्वर और डायमंड कि जगह आर्टिफीसियल अभुशानों का प्रयोग करने लग गयी हैं। अब सिल्वर की जगह जर्मन सिल्वर का अधिक उपयोग होने लगा हैं, डायमंड की जगह अमेरिकन डायमंड का उपयोग होने लगा है।

Yuva Press की ओर से ऐसी वारदातों से बचने के लिए कुछ सुझाव दिए जा रहे हैं – 

  1. बहार जाते समय आर्टिफीसियल का उपयोग करे- जब भी आप बहार जाती हैं, कोशिश कीजिये कि आप सोने के गहनों के प्रयोग कम करे और आर्टिफीसियल का उपयोग ज्यादा करे।
  2. सुनसान रूट से न जाये- जब भी आप लेट होती हैं, या फिर नाईट या गर्मी की दोपहर में कही से भी आ रही होती हैं, तो हमेशा ध्यान दें कि आप किसी भी सुनसान रास्ते से न जाये। पब्लिक रूट से क्योंकि वह पर किसी भी प्रकार की घटना घटने के चांसेस कम होते हैं।
  3. बदले अपनी डायरेक्शन- आप अकेले रोड पर जा रही और आपको लगता हैं कि कोई आपको फॉलो कर रहा हैं तो तुरंत आप किसी और डायरेक्शन की और टर्न लीजिये या स्ट्रीट क्रॉस भी कर सकती हैं, और किसी पब्लिक प्लेस पर जाकर दुकानदार से मदद ले।
  4. Section 503- अगर आपको कोई भी व्यक्ति धम्कत्ता हैं, या नुकसान पहुचने की कोशिस करता हैं तो उस पर धारा 503 के तहत केस आसानी से दर्ज किया जा सकता हैं।

Yuva Press की सलाह है कि आप सतर्कता बनाये रखे और घबराये नहीं।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares