चीन का ऐसा Highway, जिसकी रगों में दौड़ती है बिजली

Written by
China opens a kilometer long world first Solar Power Highway

यह कहना गलत नहीं होगा कि China हर लिहाज से 21 वीं सदी का अमेरिका है। अजूबे आविष्कार (Invention) की वजह से China हमेशा सुर्खियों में रहता है। Solar Power Highway निर्माण कर चीन एकबार फिर से सुर्खियों में है। इस सड़क की खासियत है कि जब इस पर वाहन दौड़ेगी तो बिजली पैदा होगी। बिजली का इस्तेमाल Street lights, Surveillance CCTV camera, Electric vehicle charging station, Toll Plaza समेत अन्य कामों में किया जाएगा। Solar Power Highway में ऐसे तकनीक का इस्तेमाल किया गया है जिसका इस्तेमाल सर्दियों में हाइवे पर जमी बर्फ को पिघलाने में भी किया जाएगा।

1 साल में 1 करोड़ किलोवॉट बिजली की पैदावार

5875 वर्गमीटर में फैले इस सड़क का निर्माण पूर्वी चीन के शेनडांग प्रांत की राजधानी जिनान में किया गया है। चीनी मीडिया के मुताबिक यह प्रोजेक्ट 50 किलोमीटर का है। पहले चरण के तहत 1 किलोमीटर लंबे Solar Power Highway को टेस्टिंग के लिए खोला जा चुका है। इस हाइवे के जरिए एक साल में करीब 1 करोड़ किलोवॉट बिजली पैदा की जा सकेगी।

1 वर्गमीटर बनाने का खर्च 30 हजार

Solar Power Highway को तीन लेयर में बनाया गया है। सबसे नीचे Insulating layer है जिसके ऊपर सिलिकॉन के पैनल (Photovoltaic panels) लगे हुए हैं। सबसे ऊपर transparent concrete का इस्तेमाल किया गया है। Transport engineering experts के मुताबिक Solar Power Highway सामान्य हाइवे से 10 गुना ज्यादा वजन झेल सकता है। इस सड़क से अगले 20 सालों तक बिजली की पैदावार होगी। खर्च के लिहाज से देखें तो 1 वर्गमीटर सड़क निर्माण की लागत करीब 30 हजार रुपए है। चीन के अलावा फ्रांस और हालैंड भी Solar Power Road पर काम कर रहा है।

Electric Cars और Solar Power Highway भविष्य की जरूरत

Solar Power Highway आने वाले वक्त की जरूरत है। हम सभी जानते हैं कि अगल कुछ सालों में Electric Cars की उपयोगिता काफी बढ़ेगी। पेट्रोल और डीजल वाहन का इस्तेमाल काफी कम किया जाएगा। पूरा विश्व Electric Vehicles को लेकर जागरूक हो रहा है। विकसित देशों में Electric Cars को लेकर इंफ्रास्ट्रक्चर का भी विकास किया जा रहा है। China पेट्रोलियम का बहुत बड़ा आयातक है। चीन की अर्थव्यवस्था (Economy) बहुत हद तक Petroleum पर निर्भर है। इसलिए चीन उर्जा के दूसरे स्रोत की तलाश पर लगातार काम कर रहा है। विश्व में चीन Solar energy का सबसे बड़ा उत्पादक है। Petroleum के विकल्प के तौर पर चीन Solar energy के उत्पादन और इस्तेमाल पर बहुत ज्यादा खर्च कर रहा है। चीनी सरकार का मकसद अगले कुछ सालों में पेट्रोल, डीजल वाहनों की उपयोगिता को घटाकर Electric Vehicles की उपयोगिता को बढ़ाना है। Solar Power Roads का विस्तार उसी प्रोजेक्ट का अहम हिस्सा है।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares