CWG 2018 में वेटलिफ्टर संजीता चानू ने भारत को दिलाया दूसरा गोल्ड मेडल

नई दिल्ली: गोल्ड कोस्ट, ऑस्ट्रेलिया चल रहे 21वें CWG 2018 (कॉमनवेल्थ खेलों ) भारत का प्रदर्शन शानदार देखने को मिल रहा है। इस समय भारत के खाते में दो गोल्ट मेडल आ चुका है। भारत की स्टार वेटलिफ्टर संजीता चानू ने 53 किलोग्राम वर्ग में गोल्ड मेडल को अपने नाम किया और भारत को CWG 2018 में दूसरा गोल्ड मेडल दिया दिया। इस कॉमनवेल्थ खेल के पहले दिन में भारत की मीराबाई चानू ने देश का नाम रोशन करते हुए पहला गोल्ड मेडल दिलाया था। वही दूसरी ओर पुरुष वर्ग में भारत के गुरुराजा ने सिल्वर मेडल जीतने में कामयाबी हासिल की। गुरुराजा पुजारी ने 56 किलोग्राम कैटेगरी में 249 किलोग्राम का वजन उठाकर यह पदक अपने नाम किया। अब तक भारत के खाते में तीन पदक आ चुका है।

गुरूवार को मीराबाई चानू ने 86 किलोग्राम का वजन उठाया और दो बार अपने ही रिकार्ड को तोड़ दिया। इन्होंने पहले ही प्रयास में 80 किलोग्राम वजन उठाने में महारत हासिल की और साथ ही कॉमनवेल्थ गेम्स में एक नया रिकार्ड भी बनाया। इससे पहले पिछला रिकॉर्ड 77 किलोग्राम का था जो
अगस्तानिया ने बनाया था। इसके बाद दूसरे प्रयास में भारत के मीरा बाई चानू ने असानी से 84 किलोग्राम का वजन उठाया और अपने ही रिकार्ड को तोड़ दिया। फिर तिसरी और आखरी कोशिश में 86 किलोग्राम का वजन उठाया और अपने ही रिकार्ड से आगे निकल गई।

भारतीय लिफ्टर्स ने CWG 2018 के पहल दिन दो पदक अपने नाम किया लेकिन व्यवस्था ने हमें फिर से एक बार निराश किया।
मीराबाई चानू(48 किग्रा) ने सभी रिकार्ड को तोड़ते हुए गोल्ड मेडल को जीता जबकि पी गुरूराजा(56 किग्रा) ने रजत मेडल को अपने नाम किया।
यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि भले ही मेडल का रंग अलग-अलग हो लेकिन दोनों की जिंदगी में समानता यह है कि उनके दर्द और चोट का ख्याल रखने के लिए कोई भी फिजियो उनके साथ नहीं था।

रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन के बाद मीराबाई चानू ने मीडिया से बताय कि यहां पर मेरे साथ कोई फिजियो नहीं था। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि क्योंकि फिजियो को अनुमति दी गई। यहा तक कि मुझे यहा आने से पहले उपचार नहीं मिला है। हमने अधिकारियों को इसके बारे में कहा लेकिन कुछ नहीं हुआ। वहीं गुरुराजा ने कहा कि मुझे कई जगह चोट लगी है। मेरा फिजियो नहीं था इसलिए मैं सायटिक नस और घुटने का इलाज नहीं करा पाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *