निजी-सरकारी भागीदारी से रक्षा उत्‍पादन में क्रांति लाई जा सकती है-रक्षामंत्री राजनाथ सिंह

Written by

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि निजी-सरकारी भागीदारी से रक्षा उत्‍पादन में क्रांति लाई जा सकती है। राजनाथ सिंह ने नई दिल्‍ली में Society of Indian Defense Manufacturers की सालाना बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार ने वैश्विक सुरक्षा परिदृश्‍य को देखते हुए सशस्‍त्र सेनाओं का तेजी से आधुनिकीकरण सुनिश्चित करने के लिए एकजुटता का माहौल बनाया है। उन्‍होंने कहा कि दुनियाभर के देश अपनी सेनाओं का आधुनिकीकरण कर रहे हैं और Border Dispute, Maritime Possession तथा सुरक्षा चिंताओं को देखते हुए सैन्‍य उपकरणों की मांग तेजी से बढी है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारतीय companies कम लागत में आधुनिक हथियार बनाने में सक्षम हैं। उन्‍होंने जोर देकर कहा कि भारतीय रक्षा उद्योग अत्‍याधुनिक, उच्‍च गुणवत्‍तायुक्‍त और कम लागत वाले हथ‍ियारों का उत्‍पादन कर सकता है जिससे ना केवल राष्‍ट्रीय सुरक्षा को बल मिलेगा बल्कि भारत हथियारों का निर्यातक देश भी बनेगा। उन्‍होंने दोहराया कि सरकार का ‘Make in India’ और ‘Make for the World’ का संकल्‍प पिछले अनुभवों, मौजूदा स्थितियों और भविष्‍य की जरूरतों पर आधारित है।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares