DRDO ने राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की 5वीं पुण्यतिथि पर ‘Dare to Dream 2.0′ प्रतियोगिता शुरू की

Written by

DRDO (Defense Research and Development Organisation) ने पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की पांचवीं पुण्यतिथि के मौके पर सोमवार को भारत में रक्षा और उभरती तकनीकों के क्षेत्र में Innovators को बढ़ावा देने के लिए एक प्रतियोगिता शुरू की।

रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “Dare to Dream 2.0” प्रतियोगिता के विजेताओं का फैसला विशेषज्ञ समिति द्वारा उचित मूल्यांकन के बाद किया जाएगा।

“पुरस्कार राशि, Start-Up के लिए 10 लाख रुपये तक और Individual Category में 5 लाख रुपये, विजेताओं को दिए जाएंगे।”

मंत्रालय ने कहा कि यह प्रतियोगिता DRDO (Defense Research and Development Organisation) द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए ‘आत्मनिर्भर भारत’ के आह्वान के बाद देश में रक्षा और Aerospace Technologies में Innovation के लिए व्यक्तियों और स्टार्ट-अप को बढ़ावा देने के लिए शुरू की जा रही है।

प्रख्यात वैज्ञानिक एपीजे अब्दुल कलाम को “Missile Man” के रूप में जाना जाता है क्योंकि वे इस जीवनकाल के दौरान Ballistic Missiles और Satellite Launch Vehicle Technology के विकास के लिए कई सफल परियोजनाओं का हिस्सा थे। मंत्रालय ने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘Ignited Minds’ के लिए प्रतियोगिता की घोषणा करने की खुशी जाहिर की है। एपीजे अब्दुल कलाम का 27 जुलाई 2015 को 83 वर्ष की आयु में निधन हो गया, उन्हें शिलॉन्ग के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (IIM) में व्याख्यान देते समय कार्डियक अरेस्ट हो गया।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares