ब्लैकचैन सुविधाओं का परीक्षण करने के लिए बैंक ऑफ इंग्लैंड की नई भुगतान प्रणाली

Written by
Blockchain technology

नई दिल्ली: बैंक ऑफ इंग्लैंड 27 मार्च को एक बयान जारी किया कि रीयल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (आरटीजीएस) सेवा डिस्ट्रीब्यूटेड लेजर टैक्नोलॉजी (डीएलटी) के साथ बातचीत करने में सक्षम हो सकती है। ब्लैकचैन (Blockchain technology) को समझने के लिए एक प्रूफ ऑफ अवधारणा (पीओसी) का आयोजन किया जा रहा है।

रीयल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट सिस्टमस एक विशेष भुगतान प्रणाली होती है जहां बैंकों के बीच “real time” और “gross basis” पर निधि का हस्तांतरण किया जाता है। इसका मतलब यह है कि लेन-देन जैसे ही किसी अन्य लेन-देन के साथ लिंक किया जायेगा है उसी समय बिना एक-से-एक आधार पर संसाधित होगा और उसे उसी समय निपटाया जायेगा। RTGS systems का उपयोग साधारण रूप से उच्च मूल्य वाले लेनदेन के लिए किया जाता है, जिसमें देश की केंद्रीय बैंक द्वारा त्वरित समाशोधन की आवश्यकता होती है।

मई 2017 में, बैंक ऑफ इंग्लैंड RTGS blueprint जारी करेगा और इसके साथ उसने दावा किया कि बैंक एक नया सिस्टम जारी करेगा जो कि एक विविध और लचीली श्रेणी के रूप से काम करेगा ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि भुगतान इन्फ्रास्ट्रक्चर्स के पास केंद्रीय बैंक के पैसे का उपयोग हो सके। इसके बाद बैंक ने Blockchain technology के साथ संगत भुगतान सेवा विकसित करने की अपनी इच्छा जाहिर की, हालांकि हल ही के घोषणा में बैंक ने प्रौद्योगिकी की अपरिपक्वता के कारण DLT को माइग्रेट करने का विचार को अस्वीकार कर दिया था।

हालांकि, बैंक ने निष्कर्ष निकाला है कि वितरित लेजर टेक्नोलॉजी (DLT) रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट के लिए पर्याप्त रूप से परिपक्व नहीं है।
उच्च प्राथमिकता को प्राप्त करने के लिए यह सुनिश्चित करता है कि नई सेवा डीएलटी के साथ और जब यह इंटरफेस करने में सक्षम होगा तो व्यापक स्टर्लिंग बाजारों में इसे विकसित किया जा सकेगा।

यूके बैंक बैटन सिस्टम, क्लैमाटिक्स टेक्नोलॉजीज लिमिटेड, आर 3, और टोकन जैसे कंपनियों का सहयोग करेगा, जो अभिनव प्रौद्योगिकियों का उपयोग करके भुगतान समाधान विकसित करेगा। प्रोजेक्ट पार्टियां, नवीनीकृत आरटीजीएस सेवा के साथ बातचीत करने के लिए डीएलटी-आधारित भुगतान प्रणालियों की क्षमता की जांच की जायेगी ताकि इस तरह के सेवा की “कार्यक्षमता को बढ़ाई जा सके। बैंक इस वर्ष के अंत में अपने निष्कर्षों की रिपोर्ट करने की योजना बना रहा है।

इस हफ्ते, यूरोपीय सेंट्रल बैंक (ईसीबी) ने बैंक ऑफ जापान (बीओजे) के साथ साथ सिक्योरिटीज बस्तियों को बदलने के लिए Blockchain technology की क्षमता का अध्ययन जारी किया।

Leave a Reply

Shares