प्रवासी भारतीय दिवसः वो NRI, जिनकी प्रतिभा का दुनिया ने माना लोहा

आज भारत तरक्की की राह पर तेजी से आगे बढ़ रहा है। भारत की इस तरक्की में प्रवासी भारतीयों (Non Resident Indians) का अहम योगदान है। विज्ञान, साहित्य, कला या बिजनेस, कोई भी क्षेत्र हो, प्रवासी भारतीयों ने सभी क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा से दुनिया को चौंकाया है। प्रवासी भारतीयों के देश की तरक्की में योगदान को याद करते हुए हमारा देश हर साल 9 जनवरी के दिन प्रवासी भारतीय दिवस का आयोजन करता है। आज चूंकि प्रवासी भारतीय दिवस है, इसलिए हम आज उन गिने-चुने प्रवासी भारतीयों (Famous Non Resident Indians) के बारे में बताएंगे, जिन्होंने विदेशों में अपनी प्रतिभा से भारत की छवि में चार चांद लगाए हैं।

नरिंदर सिंह कापानी (Narinder Singh Kapani)

पंजाब में पैदा हुए नरिंदर सिंह (Non Resident Indians) कापानी एक मशहूर अमेरिकी बिजनेसमैन हैं, जिन्हें फाइबर ऑप्टिक्स के क्षेत्र में योगदान के लिए पूरी दुनिया में जाना जाता है। आज फाइबर ऑप्टिक्स हमारे संचार तंत्र का आधार है। यही वजह है कि मशहूर Fortune Magazine ने अपनी Businessmen of the Century की 7 Unsung Heroes की लिस्ट में शामिल किया था। साथ ही उन्हें Father of Fiber Optics भी कहा जाता है।

एस. चंद्रशेखर (S. Chandrasekhar)

महान वैज्ञानिक एस. चंद्रशेखर को ब्लैक हॉल थ्योरी के लिए जाना जाता है। जिसके लिए उन्हें साल 1983 में नोबेल पुरस्कार से भी नवाजा गया था। इसके साथ ही तारों की रेडिएशन एनर्जी पर की गई उनकी खोज भी बेहद महत्वपूर्ण मानी जाती है। रॉयल सोसाइटी के एक सदस्य R.J Tayler ने एक बार कहा था कि “अंतरिक्ष के क्षेत्र में किया गया उनका काम ऐसा था, जिसे शायद ही अब कभी भविष्य में देखा जा सकेगा।”

अमर्त्य सेन (Amartya Sen)

पश्चिम बंगाल में पैदा हुए भारतीय अर्थशास्त्री और दार्शनिक अमर्त्य सेन कल्याणकारी अर्थशास्त्र, सामाजिक न्याय के क्षेत्र में किए गए उनके काम के लिए पूरी दुनिया में जाने जाते हैं। उनके द्वारा किए गए कामों के लिए उन्हें साल 1998 में अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है। वह एक बेहतरीन लेखक भी हैं और उनके द्वारा लिखी गई किताब Argumentative Indians: Writing of Indian History, Culture and Identity काफी चर्चित रही थी।

Famous Non Resident Indians

विनोद खोसला (Vinod Khosla)

दिल्ली में पैदा हुए और IIT Delhi में पढ़े विनोद खोसला का शुमार दुनिया के अरबपतियों में होता है। जावा प्रोग्रामिंग बनाने के लिए मशहूर कंपनी Sun Microsystems के वह को-फाउंडर हैं। फिलहाल खोसला Environmental Startups के इन्वेस्टर के तौर पर दुनिया भर में जाने जाते हैं।

हरगोविंद खुराना (Har Gobind Khorana)

पंजाब के रायपुर में पैदा हुए मशहूर वैज्ञानिक हरगोविंद खुराना को जेनेटिक कोड की खोज के लिए साल 1968 में Nobel Prize से नवाजा गया था। विज्ञान के क्षेत्र में किए गए उनके काम के लिए उन्हें दुनियाभर में बड़े ही सम्मान की नजरों से देखा जाता है।

रोहिंटन मिस्त्री (Rohinton Mistry)

अपनी राइटिंग के लिए दुनियाभर में पहचाने जाने वाले रोहिंटन मिस्त्री का जन्म मुंबई में हुआ। साल 1975 में रोहिंटन अपने परिवार के साथ कनाडा शिफ्ट हो गए। उनके द्वारा साल 1991 में लिखी गई किताब Such a Long Journey दुनियाभर में काफी प्रसिद्ध हुई थी। उनकी किताब A Fine Balance दुनिया की बेहतरीन किताबों में शुमार होती है।

पैन नलिन (Pan Nalin)

गुजरात में पैदा हुए पैन नलिन एक जाने-माने फिल्म निर्देशक और फिल्म लेखक हैं। उनकी पहली फिल्म Samsara को दुनियाभर में सराहा गया था। इसके अलावा उनकी फिल्म Valley of Flowers को भी काफी पसंद किया गया।

वेंकटरमन रामाकृष्ण (V. Ramakrishnan)

तमिलनाडु में पैदा हुए वेंकटरमन रामाकृष्ण एक जाने-माने बायोलॉजिस्ट हैं, जिन्हें साल 2009 में रसायनशास्त्र के नोबेल पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। रामाकृष्ण U.S National Acadamyof Sciences के भी सम्मानित सदस्य हैं। वहीं साल 2010 में भारत सरकार भी उन्हें पद्म विभूषण के सम्मान से नवाज चुकी है।

Famous Non Resident Indians

कल्पना चावला (Kalpana Chawla)

हरियाणा के करनाल में जन्मी कल्पना चावला किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं। वह भारत और अमेरिका की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री थी। साल 2003 में कोलंबिया स्पेस शटल के साथ हुए दर्दनाक हादसे में उनकी मौत हो गई थी। कल्पना चावला ना सिर्फ भारत की युवा पीढ़ी बल्कि दुनिया भर के युवाओं की रोल मॉडल हैं।

लक्ष्मी मित्तल (Lakshmi Mittal)

स्टील की दिग्गज कंपनी Arcelor Mittal के मालिक और सीईओ लक्ष्मी मित्तल कारोबारी दुनिया का जाना पहचाना नाम हैं। राजस्थान में जन्मे लक्ष्मी मित्तल आज ब्रिटेन के सबसे अमीर व्यवसायी में गिने जाते हैं। साल 2007 में लक्ष्मी मित्तल एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति चुने गए थे। इसके साथ ही मित्तल समाज कल्याण के काम से भी जुड़े हैं।

प्रणव मिस्त्री (Pranav Mistry)

गुजरात के पालनपुर में पैदा हुए 33 वर्षीय प्रणव मिस्त्री सैमसंग कंपनी में रिसर्च विभाग के वाइस प्रेसीडेंट के पद पर तैनात हैं। तकनीक की भाषा में Wearable Computing, Augmented Reality, AI, Machine Vision जैसे क्षेत्रों में प्रणव मिस्त्री ने खासा योगदान दिया है। साल 2013 में World Economic Forum के यंग लीडर्स की श्रेणी में प्रणव को 13वां स्थान दिया गया था।

इंदिरा नूयी (Indra Nooyi)

PepsiCo की चेयरपर्सन और सीईओ इंदिरा नूयी आज बिजनेस जगत में जाना माना नाम हैं। वह दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी फूड और पेय पदार्थों की कंपनी PepsiCo का संचालन करती हैं। चेन्नई में जन्मी इंदिरा का दुनिया की 100 सबसे पॉवरफुल महिलाओं में शुमार होता है।

Famous Non Resident Indians

सबीर भाटिया (Sabeer Bhatia)

भारतीय अमेरिकी कारोबारी सबीर भाटिया (Non Resident Indians) तकनीक के क्षेत्र का दिग्गज नाम है। चंडीगढ़ में पैदा हुए और BITS Pilani से ग्रेजुएट सबीर भाटिया Email Service Hotmail के फाउंडर हैं। साल 1997 में सबीर भाटिया उस वक्त सुर्खियों में आए थे, जब उन्होंने Hotmail को आईटी की दिग्गज कंपनी Microsoft को 400 मिलियन डॉलर में बेच दिया था। MIT ने उन्हें दुनिया के 100 Young Innovators में चुना था।

जुबिन मेहता (Zubin Mehta)

दुनिया भर में अपने शानदार संगीत के लिए पहचाने जाने वाले जुबिन मेहता का जन्म मुंबई में हुआ था। वह एक ऑर्केस्ट्रा कंडक्टर और म्यूजिक डायरेक्टर हैं, जिन्हें Hollywood Walk of Fame में जगह दी गई है।

सीके प्रह्लाद (C.K Prahlad)

दुनिया के Most Influential Business Thinkers में शामिल सीके प्रह्लाद आज मैनेजमेंट की दुनिया का जाना पहचाना नाम हैं। तमिलनाडु के कोयंबटूर में जन्में सीके प्रह्लाद (Non Resident Indians) ने अपने मैनेजमेंट स्किल्स से Philips कंपनी को डूबने से बचाया था। सीके प्रह्लाद कई किताबें भी लिख चुके हैं, जिन्हें दुनियाभर में सराहा गया है।

अमर बोस (Amar Bose)

पेशे से इलेक्ट्रिकल और साउंड इंजीनियर अमर बोस का जन्म एक बंगाली हिंदू परिवार में हुआ था। दुनियाभर में मशहूर Bose Corporation के फाउंडर और चेयरमैन अमर बोस ही हैं। साल 2007 में अमर बोस (Non Resident Indians) को दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची में जगह दी गई थी। अमर बोस के सम्मान में अमेरिका की प्रतिष्ठित MIT University, The Bose Award for Excellence और Junior Bose Award का आयोजन करती है।

सत्या नाडेला (Satya Nadella)

सत्या नाडेला Microsoft के मौजूदा CEO है, जिनका जन्म हैदराबाद में हुआ था। माइक्रोसोफ्ट के साथ जुड़ने से पहले सत्या नाडेला Sun Microsystem के साथ जुड़े हुए थे। आईटी में Cloud Computing के क्षेत्र में सत्या नाडेला का काफी योगदान है।

Famous Non Resident Indians

सुंदर पिचाई (Sundar Pichai)

Google के मौजूदा CEO सुंदर पिचाई का जन्म तमिलनाडु के मदुरै में हुआ। IIT खड़गपुर से ग्रेजुएट आज Technology Gaint Google के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। अपनी सफलता के कारण सुंदर पिचाई आज भारत सहित पूरी दुनिया में युवाओं के रोल मॉडल हैं।

Leave a Reply

You may have missed