सरकार ने विदेशी कारोबारियों, तकनीशियनों को दी भारत आने की अनुमति

Written by

लॉकडाउन की घोषणा किए जाने के बाद सरकार ने पहली बार विदेशी कारोबारियों, स्वास्थ्यसेवा पेशेवरों और इंजीनियरों को भारत आने की अनुमति दे दी है, लेकिन इसके लिए उन्हें नए वीजा प्राप्त करने होंगे।
गृह मंत्रालय ने एक आदेश में कहा कि कई बार प्रवेश के लिए मान्य दीर्घकालिक व्यापार वीजा रखने वाले विदेशी नागरिकों को अपने यात्रा दस्तावेज भारतीय मिशन से पुन: मान्य कराने होगे।
मंत्रालय ने बुधवार को जारी एक बयान में कहा, ‘‘भारत सरकार ने विदेशी नागरिकों की कुछ श्रेणियों को भारत में आने की अनुमति देने के लिए वीजा और यात्रा प्रतिबंधों में छूट के मामले पर विचार किया है।’’
मंत्रालय ने बुधवार को जारी बयान में बताया कि विदेशी नागरिकों की कुछ श्रेणियों को भारत आने की अनुमति दिए जाने का निर्णय लिया गया है।
चिकित्सक और इंजीनियर आ सकेंगे भारत
कारोबारियों के अलावा चिकित्सा पेशेवरों को भी छूट दी गई है। ये चिकित्सा पेशेवर किसी मान्यता प्राप्त और Registered Healthcare Facility के न्योते पर ही आ सकते हैं। इसके अलावा विदेश में बनी मशीनों को इंस्टॉल करने, ठीक करने और उनकी मेंटेनेंस के लिए तकनीक विशेषज्ञ और इंजीनियर भी भारत आ सकते हैं। इस खास समूहों के विदेशी नागरिकों को जरूरत के आधार पर विदेशों में स्थित भारतीय मिशनों या पोस्ट में फिर से Business Visa, Employment Visa के लिए आवेदन करना होगा।
पहले से जारी वीजा के आधार पर नहीं मिलेगी एंट्री
जिन विदेशी नागरिकों के पास भारत आने के लिए Long Term Multiple Entry Business Visa (स्पोर्ट्स के लिए B-3 वीजा के अलावा) है उन्हें विदेशों में स्थित भारतीय मिशनों या पोस्ट्स से बिजनेस वीजा Revalidate कराना होगा। ऐसे विदेशी नागरिकों को पहले प्राप्त किसी भी इलेक्ट्रॉनिक वीजा (E-Visa) के आधार पर भारत की यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी।
लॉकडाउन लागू होने के बाद पहली बार ऐसा हुआ है, जब विदेशी नागरिकों को भारत आने की अनुमति दी गई।

Article Tags:
·
Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares