अक्षय तृतीया पर गोल्‍ड में निवेश करें या नहीं जाने

Written by
Gold Investment

नई दिल्ली: इस बार अक्षय तृतीया 18 अप्रैल को है और इस दिन सोना खरीदना (Gold Investment) बहुत शुभ होता है। ऐसा कहा जाता है कि अक्षय तृतीया के दिन सोना खरीदना घर में सुख-समृद्धि लाने के बराबर होता है। यही कारण है कि हमारे देश में हर वर्ष अक्षय तृतीया के अवसर पर सोने की बिक्री में तेजी देखी जाती है।

अक्षय तृतीया त्यौहार को कई नामों से पुकारा जाता है जैसे -अखतीज और वैशाख तीज। इस त्यौहार को भारत में खास पर्वों की श्रेणी में रखा जाता है। अक्षय तृतीया त्यौहार वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि के दिन आयोजित होता है। इस दिन लोग स्नान, जप, दान, होम आदि अपने सामर्थ्य के अनुसार करते हैं।

इस दिन ज्वेलर्स भी लोगों को खरीदने के लिए आकर्षक ऑफर लेकर आते हैं ताकि लोगों को गोल्ड खरीदने के लिए लुभाया जा सके। लेकिन यह कहने में कतई बेइमानी नहीं होगी कि पिछले कुछ वर्षों में गोल्ड में निवेश (Gold Investment) करने पर लोगों को औसत या उससे कम रिटर्न ही प्राप्त हुआ है। इसलिए ये प्रश्न मन में उठना स्वाभाविक हो गया है कि क्या अक्षय तृतीया पर इस बार भी सोने की खरीदारी करनी चाहिए या नहीं।

यदि आप अक्षय तृतीया पर गोल्ड खरीदने का प्लान बना रहे है तो आपके लिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है क्योंकि इसे समय-समय पर केंद्र सरकार द्वारा जारी किया जाता है। इसे खरीदने (Gold Investment) में सबसे ज्यादा फायदा यह है कि आपको इस पर सालाना 2.5 प्रतिशत का ब्याज अतिरिक्त मिलता है। इस बर अक्षय तृतीया को ध्यान में रखते हुए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की पहली खेप 16 अप्रैल को ही लॉन्च किया जा चुका है। इसमें 20 अप्रैल तक निवेश के लिए बोली लगाई लगाया जा सकती है और ये बॉन्ड 4 मई तक जारी रहेगा। इसका इश्यू प्राइस 3114 रुपए प्रति ग्राम है और डिजिटल पेमेंट पर 50 रुपए प्रति ग्राम का डिस्काउंट प्राप्त होगा। हमेशा यह याद रखें कि इन बॉन्ड की अवधि है 8 साल के लिए होता है। यदि आप निवेशक है तो आप 5 साल बाद बाहर निकलने का विकल्प प्राप्त होगा।

Article Categories:
Investor · News · Startups & Business

Leave a Reply

Shares