Honey Trap के जाल में फंसकर भारतीय वायुसेना के अधिकारी ने ISI को दी खुफिया जानकारी

Written by
Honey Trap

ताकत के मामले में भारत से पिछड़ने के बाद पाकिस्तान भारत को कमजोर करने के लिए नए नए हथकंडे अपना रहा है। ऐसे ही हथकंडों में शामिल है हनीट्रैप (Honey Trap), जिसके जरिए पाकिस्तान की खूफिया एजेंसी ISI भारतीय सेना के अधिकारियों को हुस्न के जाल में फंसाकर उनसे गोपनीय जानकारी ले रही है। ऐसे ही एक मामले का खुलासा हुआ है, जिसमें ISI की एक महिला जासूस ने भारतीय वायुसेना के एक ग्रुप कैप्टन को प्रेमजाल में फंसाकर सुरक्षा से जुड़ी अहम जानकारियां निकाल ली हैं।

क्या है Honey Trap मामला

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने भारतीय वायुसेना के ग्रुप कैप्टन अरुण मारवाह को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। कैप्टन पर आरोप है कि वह पिछले कई दिनों से ISI की एक महिला एजेंट के संपर्क में थे। कैप्टन ने फोन पर चैटिंग के दौरान उस एजेंट को सुरक्षा से जुड़े खूफिया दस्तावेज भी उपलब्ध कराए हैं।

जांच में पता चला है कि कैप्टन अरुण मारवाह महिला एजेंट से अश्लील बातें भी किया करते थे। फिलहाल कैप्टन को गिरफ्तार कर 5 दिन की रिमांड पर भेज दिया गया है।

कैसे हुआ खुलासा

खबर के अनुसार, एयरफोर्स के एक वरिष्ठ अधिकारी को जासूसी की जानकारी हुई। जिसके बाद एयरफोर्स ने कैप्टन मारवाह के खिलाफ आंतरिक जांच शुरु कर दी। जांच में कैप्टन मारवाह के दोषी पाए जाने के बाद एयरफोर्स ने मामले की जानकारी दिल्ली पुलिस को दी। जिस पर दिल्ली पुलिस ने शिकायत दर्ज कर आरोपी कैप्टन को गिरफ्तार कर लिया।

पुराना है Honey Trap का इतिहास

बता दें कि दुनियाभर में हनीट्रैप (Honey Trap) का पुराना इतिहास रहा है। कई देश दूसरे देशों की जासूसी कराने के लिए हनीट्रैप का सहारा लेते रहे हैं। हनीट्रैप (Honey Trap) में खूबसूरत महिला जासूस दुश्मन देश के उच्च अधिकारियों को पहले अपने प्रेम जाल में फंसाती हैं, उसके बाद उनसे संवेदनशील जानकारी हासिल कर लेती हैं।

Article Tags:
· · ·
Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares