अगर भारत भी लागू करे फिलीपींस का कानून, तो हर साल 30 करोड़ पेड़ लग सकते हैं : जानिए कैसे ?

Written by

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद 31 अगस्त, 2019 (युवाPRESS)। अभी तीन महीने पहले ही विश्व के मानचित्र पर एक छोटे-से देश के रूप में दिखाई देने वाले फिलीपींस ने पर्यावरण संरक्षण की दिशा में ऐसा कानून बनाया, जो पूरी दुनिया को राह दिखाने वाला सिद्ध हो सकता है। फिलीपींस ने जो कानून बनाया है, उसके मुताबिक अब फिलीपींस में उन्हीं विद्यार्थियों को स्नातक की डिग्री प्रदान की जाएगी, जो कम से कम 10 पेड़ लगाएँगे।

फिलीपींस सरकार ने अपने देश में वनों की भारी कटाई के चलते वनावरण 70 प्रतिशत से घट कर 20 प्रतिशत पर आ जाने के बाद गत 15 मई, 2019 को यह कानून लागू किया है। इस कानून के जरिए फिलीपींस सरकार एक वर्ष में 17 करोड़ 50 लाख से अधिक पेड़ लगाने, उनका पोषण करने और उन्हें विकसित करने का लक्ष्य रखा है। फिलीपींस ने जो कानून बनाया है, उसका नाम ‘Graduation Legacy for the Environment Act’ नाम दिया है। सबसे बड़ी ख़ुशी की बात यह है कि इस कानून को फिलीपींस की संसद ने सर्वसंमति से पारित किया है। यह कानून सभी स्कूल-कॉलेजों पर लागू होगा।

यह तो बात हुई दक्षिण-पूर्व एशिया में स्थित देश फिलीपींस की, जो उसी एशियाई महाद्वीप का हिस्सा है, जिसमें भारत भी शामिल है। क्या भारत में भी ऐसे किसी कानून की कल्पना की जा सकती है ? पेड़ों की जिस तरह कटाई हो रही है, जंगल जिस तरह घट रहे हैं, उसे देखते हुए देश के पर्यावरणविद् ही नहीं, अपितु पर्यावरण को लेकर चिंतित एवं जागृत नागरिक से लेकर आम नागरिक का भी यह दायित्व बन जाता है कि हमारे देश में जंगल के विस्तार के लिए हर आवश्यक उपाय किए जाएँ। ऐसे में कल्पना कीजिए कि यदि भारत में फिलीपींस की तरह ग्रेजुएशन की डिग्री देने से पहले 10 पेड़ लगाने की अनिवार्य शर्त वाला कानून लागू कर दिया जाए, तो हर साल कितने पेड़ लग सकते हैं ?

भारत में 50 हजार कॉलेज और 3 करोड़ विद्यार्थी

Surendran.in नामक वेबसाइट की एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में इस समय उच्च शिक्षा संस्थानों की संख्या लगभग 50 हजार है। इनमें 1076 विश्वविद्यालय, उनसे जुड़े 39,701 कॉलेज और 11,923 निजी उच्च शिक्षा संस्थान हैं और इन उच्च शिक्षा संस्थानों में लगभग 3 करोड़ विद्यार्थी पढ़ाई कर रहे हैं। यदि भारत में फिलीपींस की तरह कॉलेज के छात्रों के लिए यह कानून बना दिया जाए कि 10 पेड़ लगाने पर ही ग्रेजुएशन की डिग्री मिलेगी, तो हर वर्ष 30 करोड़ नए पेड़ भारत में लगाए जा सकते हैं। फिलीपींस सरकार ने यह कानून लागू करते हुए वे क्षेत्र भी चुन लिये हैं, जहाँ पेड़ लगाए जाएँगे। चयनित क्षेत्रों में मैनग्रोव वनक्षेत्र, सैन्य अड्डे और शहरी क्षेत्र शामिल हैं। स्थानीय सरकारी एजेंसियों को इन पेड़ों की निगरानी की जिम्मेदारी दी गई है। यदि भारत भी फिलीपींस के इस कानून को लागू करे, तो हर साल ग्रेजुएशन करने वाले लगभग 3 करोड़ छात्रों को 10-10 पेड़ लगाने होंगे। इस लिहाज़ से 3 करोड़ विद्यार्थी हर वर्ष 30 करोड़ पेड़ लगा कर भारत में पर्यावरण संरक्षण अभियान में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares