अब घाव की चिंता छोड़िए : जलने का निशान भी नहीं रहेगा, जानिए कैसे ?

Written by

अहमदाबाद, 5 अगस्त, 2019 (युवाPRESS)। अब जलने से यदि किसी के शरीर पर गहरे घाव हो गये हैं, तो चिंता की कोई बात नहीं। क्योंकि दिल्ली की इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) ने गहरे से गहरे घाव को भरने की तकनीक खोज ली है। इस तकनीक से घाव तो भरेगा ही, जली हुई त्वचा पर जलने का कोई निशान भी नहीं रहेगा। कैसे ? आइये जानते हैं।

क्या है वह तकनीक ?

आईआईटी दिल्ली के तीन छात्रों गोपेन्द्र, आराधना और कीर्तिका ने अपने एक प्रोफेसर्स के साथ मिलकर इस रामबाण तकनीक का विकास किया है। दरअसल इन छात्रों ने एक ऐसी पट्टी तैयार की है, जिसे घाव पर लगाने से या जले हुए भाग पर लगाने से गहरे से गहरा घाव भर जाता है और जली हुई त्वचा पर जले का निशान तक मिट जाता है।

इस पट्टी को इन छात्रों ने जेलाटेनी से बनाया है। जेलाटेनी हमारे शरीर के मसल टिशूज में भी मौजूद होता है। इस पट्टी को घाव पर लगाने से शरीर में कोलाजन तेजी से बनेगा और सामान्य तौर पर घाव को भरने में जितना समय लगता है, उससे आधे समय में यह पट्टी घाव को भर देगी। इतना ही नही, जले हुए भाग पर इस पट्टी को लगाने से तेजी से नई त्वचा बनने लगती है और त्वचा पर मौजूद जलने के निशान गायब होने लगते हैं। कुछ ही दिन में यह पट्टी त्वचा से जलने के निशानों को पूरी तरह से गायब कर देती है।

अमेरिका में इस पट्टी की कीमत है 50 हजार रुपये

आईआईटी दिल्ली के छात्रों ने बहुत ही कम लागत में इस पट्टी को तैयार करने में सफलता प्राप्त की है। एम्स के डॉक्टरों के साथ मिलकर इस पट्टी का सफल परीक्षण भी किया जा चुका है। इस पट्टी का उपयोग सेकण्ड डिग्री बर्न इंजरी के लिये किया जा सकता है, जिसके घाव काफी गहरे होते हैं या ऐसे घाव जो त्वचा की दूसरी सतह तक पहुँच जाते हैं। ऐसे घावों के लिये यह पट्टी रामबाण इलाज ही नहीं, बल्कि चमत्कारी काम करती है। भारत में इन पट्टियों को 500-1000 रुपये के बीच खरीदा जा सकेगा और जलने वाले लोग उनके शरीर पर जलने के घाव तथा निशानों को दूर कर सकेंगे।

भारत में हर साल 60 लाख से ज्यादा लोग होते हैं जलने के शिकार

मेडिकल जर्नल में प्रकाशित हुए आँकड़ों के अनुसार देश में प्रति वर्ष 60 से 70 लाख लोग बर्न इंजरी के शिकार होते हैं। इसके बाद उनके शरीर पर घाव तो भर जाते हैं, परंतु जलने के निशान रह जाते हैं, जो उन्हें आजीवन पीड़ा देते हैं। ऐसे लोग आजीवन जलने के निशानों को मिटाने का प्रयास करते रहते हैं, परंतु दाग उनका पीछा नहीं छोड़ते हैं। हालाँकि अब ऐसे लोगों को राहत मिलेगी और वह अपने शरीर से जलने के निशानों को आसानी से दूर कर सकेंगे। इस प्रकार यह पट्टी बर्न इंजरी के रोगियों के इलाज में बहुत मददगार सिद्ध हो सकती है और उनके जख्मों को भरने के साथ-साथ बर्न इंजरी के निशान से भी छुटकारा दिला सकती है।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares