VIDEO : पीएम मोदी का नाम लेते ही पाकिस्तानी रेल मंत्री को लगा करंट, हो गये चुप

Written by

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 30 अगस्त, 2019 (युवाPRESS)। भारत को परमाणु हमले की धमकी देने वाले पाकिस्तान के बड़बोले रेल मंत्री शेख रशीद को पीएम नरेन्द्र मोदी का नाम लेते ही माइक से ऐसा करंट लगा कि वह डर गये और चुप हो गये। इस दौरान वहाँ मौजूद लोग ठहाके लगाने लगे तो स्थिति को सँभालते हुए उन्होंने दोबारा बोलना शुरू किया और कहा भी तो क्या, कि ‘नरेन्द्र मोदी हमारे जलसे को नाकाम नहीं कर सकते हैं।’ इसके बाद पाकिस्तानी मंत्री शेख रशीद का यह वीडियो सोशल मीडिया पर आने के बाद तेजी से वायरल हो रहा है। पाकिस्तानी लोग ही उन्हें जमकर खरी-खोटी सुना रहे हैं।

‘कश्मीर आवर’ के कार्यक्रम में हुआ हादसा

दरअसल जम्मू कश्मीर मुद्दे पर दुनिया के मंच पर भारत से कूटनीतिक पराजय झेलने से बौखलाये पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पूरे पाकिस्तान में हर शुक्रवार को दोपहर 12 से 12.30 बजे के दौरान ‘कश्मीर आवर’ आयोजित करने का आह्वान किया है, जिसके परिणाम स्वरूप पाकिस्तान के अलग-अलग हिस्सों में इस दिन उपरोक्त समय के दौरान लोग सड़क पर उतरते हैं और संदेश देते हैं।

इस शुक्रवार को भी ऐसा आयोजन हुआ, जिसमें एक स्थान पर रेल मंत्री शेख रशीद सभा को संबोधित कर रहे थे और जम्मू कश्मीर मुद्दे पर भारत के पीएम नरेन्द्र मोदी की आलोचना कर रहे थे। इसी दौरान जैसे ही उन्होंने पीएम नरेन्द्र मोदी का नाम लिया, तो माइक से उन्हें करंट लगा और वह डर गये। वह इतने भयभीत हो गये कि उन्होंने भाषण बंद कर दिया और माइक से पीछे हट गये। जब इस घटना पर लोग उनकी हँसी उड़ाने लगे तो उन्होंने स्थिति को संभालते हुए रूमाल से माइक को पकड़ा और दोबारा बोलना शुरू किया। इस बीच उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि ‘नरेन्द्र मोदी हमारे जलसे को रोक नहीं सकते हैं।’

बड़बोले शेख रशीद भारत को दे चुके परमाणु युद्ध की धमकी

उल्लेखीय है कि पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद भी इमरान खान के उन मंत्रियों में शामिल हैं, जो भारत के विरुद्ध लगातार बयानबाजी करते रहते हैं और जहर उगलते रहते हैं। इससे पहले शेख रशीद ने भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध की तारीख घोषित करते हुए कहा था कि भारत और पाकिस्तान के बीच अक्टूबर के अंत में या नवंबर-दिसंबर में जंग शुरू हो सकती है। शेख रशीद अक्सर भारत को युद्ध की धमकी देते आये हैं। एक बार उन्होंने उन्मादी भाषण में भारत को परमाणु युद्ध की धमकी देते हुए कहा था कि पाकिस्तान ने हथियार ईद और दीवाली पर चलाने के लिये इकट्ठे नहीं किये हैं।

परमाणु परीक्षण के दौरान देश छोड़ कर भाग गये थे शेख रशीद

आपको यह भी बता दें कि पाकिस्तान के बड़बोले मंत्री शेख रशीद जो भारत को परमाणु युद्ध की धमकी देते हैं, वे खुद ही परमाणु हथियार के परीक्षण के दौरान 1998 में पाकिस्तान छोड़कर भाग गये थे। बाद में एक चैनल को दिये इंटरव्यू में उन्होंने यह बात स्वीकार भी की थी। उन्होंने कहा कि ‘उस समय परमाणु परीक्षण का फैसला 4 से 5 बड़े लोगों ने लिया था। मेरा कोई पॉलिटिकल बैकग्राउण्ड नहीं था, इसलिये मैं भयभीत था। मुझे पता था कि यह कब और कहाँ होना है, इसलिये मैं सुबह की फ्लाइट लेकर निकल गया था। मैं इतना खौफ में था कि मुझे लगा कहीं कोई मसला न हो जाए, कहीं से लीकेज हो जाए, पटाखा इधर उधर हो जाए। इसलिये मैं पाकिस्तान से चला गया था।’ उनका यह बयान भी सोशल मीडिया पर मौजूद है जो वायरल हो रहा है।

सड़कों पर जाम लगने से इमरान की आलोचना

ज्ञात हो कि इमरान खान के ‘कश्मीर आवर’ के आह्वान का खुद पाकिस्तान में ही कड़ा विरोध हो रहा है और मीडिया में आलोचना हो रही है, क्योंकि उनके इस आह्वान से सड़कों पर जाम लग रहा है और लोगों को आवाजाही में परेशानी होती है। ऐसे में पाकिस्तान के पीएम और उनके मंत्री अपने ही देश में आलोचनाएँ झेल रहे हैं।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares