दिहाड़ी मजदूर ने भरा 40 लाख का आईटी रिटर्न, जांच में हुआ चौंकाने वाला खुलासा

Written by
Income Tax Return

बेंगलुरु में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जिसमें एक दिहाड़ी मजदूर ने 40 लाख रुपए का आईटी रिटर्न  (Income Tax Return) दाखिल किया। एक दिहाड़ी मजदूर द्वारा इतनी सालाना आय दिखाने पर आयकर विभाग ने जब मामले की जांच की तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ। दरअसल यह दिहाड़ी मजदूर पर्दे के पीछे से नशे का कारोबार करता था। फिलहाल पुलिस ने आरोपी के पास से 26 किलो गांजा और 5 लाख रुपए कैश जब्त किया है।

Drug Peddler files IT Return

कर्नाटक के कोरमंगला इलाके का रहने वाला राचप्पा रंगा पेशे से एक दिहाड़ी मजदूर है। लेकिन हाल ही में आयकर विभाग की नजरें उस पर तब टेढ़ी हो गई, जब राचप्पा रंगा ने अपनी सालाना आय 40 लाख रुपए दर्शायी और अपना Income Tax Return फाइल किया। इसके बाद आयकर विभाग ने राचप्पा को पूछताछ के लिए बुलाया, लेकिन पूछताछ के दौरान राचप्पा अपनी आय को लेकर संतोषजनक जवाब नहीं दे सका। इस पर आयकर विभाग ने पुलिस को उसपर नजर रखने को कहा। हाल ही में पुलिस ने राचप्पा को नशे का कारोबार करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। साथ ही पुलिस ने राचप्पा के पास से बड़ी मात्रा में गांजा बरामद किया है। पुलिस ने इस मामले में राचप्पा के एक साथी को भी गिरफ्तार किया है।

‘हर माह 30 किलो गांजा बेचता था’

कोरमंगला पुलिस ने पत्रकारों को बताया कि आयकर विभाग के कहने पर उन्होंने राचप्पा पर नजर रखनी शुरु की। इस पर हाल ही में पुलिस को सूचना मिली कि राचप्पा अपने कुछ साथियों के साथ एक होटल में आएगा। इस पर पुलिस ने जाल बिछाकर राचप्पा और उसके एक साथी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि आयकर विभाग के रडार पर आने के बाद राचप्पा ने वकीलों की मदद से खुद को ठेकेदार के तौर पर रजिस्टर्ड करा लिया। लेकिन पुलिस ने गांजे के साथ उसे रंगे हाथ पकड़कर उसके काले कारनामों का भंडाफोड़ कर दिया। पूछताछ में राचप्पा ने बताया कि वह साल 2013 से नशे के कारोबार में जुड़ा हुआ है और हर माह करीब 30 किलो गांजा बेचता था।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares