आपने देखा 425 किलो का JUMBO गैस सिलैण्डर ? नहीं देखा, तो यहाँ देखिए

लिक्विफाइड पेट्रोलियम गैस (LPG) की वितरक कंपनी INDANE गुजरात, महाराष्ट्र कर्णाटक और तमिलनाडु के बाद अब झारखंड में अपना जंबो प्रोजेक्ट शुरू करने जा रही है। यह जम्बो प्रोजेक्ट है जम्बो एलपीजी सिलिंडर। इंडेन कंपनी ने औद्योगिक इकाइयों वाले राज्यों में एलपीजी की जरूरत पूरी करने के लिये जंबो एलपीजी सिलिंडर का प्रोजेक्ट शुरू किया है। इसी क्रम में अब कंपनी झारखंड में भी यह पहल करने जा रही है।

इंडेन कंपनी गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक तथा तमिलनाडु में औद्योगिक इकाइयों की एलपीजी की जरूरत पूरी करने के लिये 425 किलो के जंबो एलपीजी सिलिंडर उपलब्ध कराती है। इन्हें इंडेन जंबो कहा जाता है। जंबो एलपीजी सिलिंडर को मिनी बल्क भी कहा जाता है।

इंडेन कंपनी ने 3 जुलाई-2017 को तमिलनाडु के कोयम्बटूर शहर से जंबो एलपीजी सिलिंडर की शुरुआत की थी। अब कंपनी झारखंड में आगामी अगस्त महीने से 425 किलो के जंबो एलपीजी सिलिंडर का वितरण शुरू करने जा रही है। इसकी सप्लाई जमशेदपुर से शुरू होगी। इसके लिये सभी प्रकार की सुविधाएँ उपलब्ध करवा दी गई हैं। कंपनी की सेल्स टीम ने सर्वे का काम भी शुरू कर दिया है, वहीं फिलिंग के लिये एक्स्प्लोसिव विभाग से लाइसेंस भी उपलब्ध हो गया है।

इंडेन के इस जंबो एलपीजी सिलिंडर की कीमत लगभग 31,875 रुपये होगी। झारखंड में कॉमर्शियल एलपीजी सिलिंडर की माँग तेजी से बढ़ रही है, इसे देखते हुए ही कंपनी ने यह नई पहल करने का निश्चय किया है। अभी झारखंड में 19 किलो वाले एलपीजी सिलिंडर की खपत हर महीने लगभग 40,000 सिलिंडर की है। इसी प्रकार 47.50 किलो वाले एलपीजी सिलिंडर की खपत हर महीने 7,000 सिलिंडर की है तथा बल्क सप्लाई में झारखंड में हर महीने लगभग 1,000 मीट्रिक टन एलपीजी की खपत होती है।

कंपनी का मानना है कि उसकी इस पहल से झारखंड की बड़ी-बड़ी औद्योगिक इकाइयों को बहुत लाभ होगा। कंपनी के अनुसार जंबो एलपीजी सिलिंडर बहुत कम जगह लेता है। इसके इंस्टॉलेशन में फ्यूअर होज जॉइंट होता है, जो अधिक सुरक्षा देता है। इंडियन स्टैण्डर्ड 6044 के अनुसार इसका उपयोग करने वालों के पास पाइपलाइन और मैनिफोल्ड होना चाहिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed