सुरक्षा की पक्की गारंटी देते हैं देश के ये 10 पुलिस थाना क्षेत्र : जानिए कैसे ?

देश के टॉप 10 बेस्ट पुलिस थानों में गुजरात का बालासिनोर पुलिस थाना दूसरे स्थान पर रहा।

देश के टॉप 10 बेस्ट पुलिस थानों में गुजरात का बालासिनोर पुलिस थाना दूसरे स्थान पर रहा।

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद 7 दिसंबर, 2019 (युवाPRESS)। देश में बढ़ती असुरक्षा, विशेषकर महिला अपराधों के बढ़ते ग्राफ के बीच हर नागरिक चाहता है कि वह किसी ऐसी जगह पर अपना घरौंदा बनाए, जहाँ उसे उसके जान-माल की सुरक्षा की पक्की गारंटी मिले। किसी भी नागरिक की सुरक्षा की सबसे पहली ज़िम्मेदारी स्थानीय पुलिस पर होती है, प्रशासन और शासन की भूमिका बाद में आती है। यदि स्थानीय पुलिस अपना काम ठीक से करती है, तो उसके दायरे में रहने वाले नागरिक स्वयं को सर्वाधिक सुरक्षित महसूस कर सकते हैं।

आज जब देश में चोरी-लूट, अपहरण, दुष्कर्म और हत्या जैसी नृशंस घटनाओं की चौतरफा गूंज सुनाई दे रही है, तब हम आपको बताने जा रहे हैं देश के ऐसे 10 सुरक्षित क्षेत्रों के बारे में, जहाँ आपको सुरक्षा की शत प्रतिशत पक्की गारंटी मिल सकती है। देश में वैसे तो पुलिस थानों की संख्या 15 हज़ार से अधिक है, परंतु हम आपको बताने जा रहे हैं देश के सबसे सुरक्षित 10 पुलिस थानों के बारे में, जिनके दायरे में रहने वाले पुलिस द्वारा दी जा रही सेवा से न केवल संतुष्ट हैं, अपितु स्वयं को सुरक्षित भी मानते हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2015 में देश के सर्वश्रेष्ठ पुलिस थानों की सूची तैयार करने की परम्परा आरंभ की थी। शुक्रवार को वर्ष 2019 की नई सूची जारी हुई है, जिसमें देश के 10 श्रेष्ठ पुलिस थानों में गुजरात का एक पुलिस थाना भी शामिल है। टॉप 10 की रेस में देश के कुल 15,579 पुलिस थाने थे, परंतु पब्लिक फीडबैक, डेटा विश्लेषण और 5,461 लोगों की राय के बाद टॉप 10 बेस्ट पुलिस स्टेशन लिस्ट में जगह बनाने में सबसे शीर्ष पर रहा केन्द्र शासित प्रदेश अंडमान-निकोबार का अंडमान जिला स्थित एबरडीन पुलिस थाना।

देश के टॉप 10 बेस्ट पुलिस थानों में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले अंडमान-निकोबार के एबरडीन पुलिस थाने की तसवीर।

एडरबीन पुलिस थाना भारत का सर्वश्रेष्ठ पुलिस थाना घोषित किया गया है। गुजरात में महिसागर (महीसागर) जिले में स्थित बालासिनोर पुलिस थाना इस सूची में दूसरे नंबर पर रहा है। इसी प्रकार मध्य प्रदेश में बुरहानपुर जिला स्थित अजक पुलिस थाना तीसरे स्थान पर, तमिलनाडु में तेनी जिला स्थित तेनी पुलिस थाना चौथे स्थान पर, हिमाचल प्रदेश में दिबांग घाटी जिला स्थित अनिनी पुलिस थाना पाँचवें स्थान पर, दिल्ली में पश्चिमी दिल्ली स्थित बाबा हरिदासनगर-द्वारका पुलिस थाना छठे स्थान पर, राजस्थान में झालावाड जिला स्थित बाकानी पुलिस थाना सातवें स्थान पर, तेलंगाना में करीमनगर जिला स्थित चोपाडाडांडी पुलिस थाना आठवें स्थान पर, गोवा में उत्तरी गोवा जिला स्थित बिचोलिम पुलिस थाना नौवें स्थान पर और मध्य प्रदेश में शेओपु जिला स्थित भारगव पुलिस थाना दसवें स्थान पर रहा।

इस तरह किया गया श्रेष्ठता का चयन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब सर्वश्रेष्ठ पुलिस थानों की सूची तैयार करने का चलन शुरू किया, तब उन्होंने कुछ विशेष दिशा-निर्देश दिए थे। यही कारण है कि गृह मंत्रालय के अधिकारी अक्सर किसी भी पुलिस थाने की श्रेष्ठता के चयन में वहाँ की जनता की राय को सबसे महत्वपूर्ण आधार बनाते हैं। 2019 की सूची में भी इस बात का पूरा ध्यान रखा गया और सूचीबद्ध किए गए पुलिस थाना क्षेत्रों में 60-60 लोगों की राय ली गई। इन पुलिस थानों के प्रदर्शन को भी आधार बनाया गया। यह चुनाव संबंधित पुलिस थानों में उनके क्षेत्र में होने वाले सम्पत्ति संबंधी विवाद, महिलाओं के विरुद्ध अपराध, ग़रीब व कमज़ोर वर्ग के लोगों के विरुद्ध अत्याचार के मामलों की संख्या के आधार पर किया गया। 80 प्रतिशत मार्किंग पुलिसिंग पर थी, वहीं 20 प्रतिशत मार्किंग ढाँचागत सुविधाओं तथा सिटिज़न फीडबैक पर थी।

You may have missed