कश्मीर और POK में आतंकवादियों और BAT पर कहर बरपा रही भारतीय सेना

Written by

48 घण्टों में कश्मीर में 4 आतंकी और BAT के 5 से 7 जवान ढेर

POK में आतंकी कैंपों पर बोफोर्स तोपों से दागे जा रहे गोले

सबूत माँगने वालों का मुँह बंद करने के लिये भारतीय सेना ने जारी की तस्वीरें

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 4 अगस्त, 2019 (युवाPRESS)। पाकिस्तान की ओर से कश्मीर में आतंक फैलाने के लिये आतंकवादियों को घुसपैठ कराने की लगातार कोशिशें की जा रही हैं और इसके लिये सीमा पार से संघर्ष विराम का उल्लंघन करके गोलीबारी भी की जा रही है, परंतु भारतीय सेना ने भी दोनों मोर्चों पर पाकिस्तान को मुँह तोड़ जवाब दिया है। बीते 48 घण्टों के भीतर एक तरफ सेना ने सोपोर और शोपियाँ में जैश-ए-मोहम्मद के 4 आतंकियों को घेरकर ढेर कर दिया, वहीं दूसरी ओर सीमा पार से की जा रही गोलीबारी का भी करारा जवाब देते हुए घुसपैठ की कोशिश कर रहे पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) के 5 से 7 जवानों / आतंकियों को मार गिराया। इतना ही नहीं, भारतीय सेना ने पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब देने के लिये बोफोर्स होवित्ज़र तोपों का इस्तेमाल भी शुरू किया है और POK में मौजूद पाकिस्तानी सैन्य ठिकानों में स्थित आतंकी कैंपों को तबाह करने के लिये इन तोपों से गोले दागे जा रहे हैं। पाकिस्तान हमेशा उसके जवानों के मारे जाने की बात से पलट जाता है और भारत में भी कुछ प्रूव्स-पॉलिटिक्स करने वाले नेता और पार्टियाँ सबूत माँगते हैं, इसलिये भारतीय सेना ने इस बार घुसपैठ की कोशिश करते हुए मारे गये पाकिस्तानी घुसपैठियों की तस्वीरें भी जारी की हैं।

कश्मीर में आतंकियों की घुसपैठ कराने की फिराक में नापाक

पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में माहौल बिगाड़ने के लिये और अमरनाथ तीर्थ यात्रियों पर हमले करने की कई बार कोशिश कर चुका है और अभी भी उसकी कोशिशें जारी हैं। हालाँकि भारतीय सुरक्षा बलों ने अमरनाथ यात्रा के रूट से पाकिस्तानी स्नाइपर राइफल, आईईडी और माइन सहित विस्फोट बरामद करके भारतीय सैन्य कर्मियों और अमरनाथ तीर्थ यात्रियों को निशाना बनाने की कोशिशों को नाकाम कर दिया। कुछ दिन पहले ही इस इलाके में सुरक्षा बलों ने 4 आतंकियों को भी मार गिराया है। जबकि बीते 48 घण्टे में कश्मीर घाटी में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के 4 आतंकवादियों को ढेर किया है। इनमें से दो सोपोर और दो शोपियाँ में मारे गये हैं। इनमें से एक जैश का टॉप कमांडर जीनत नायकू है, जिसके पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद किया गया है। यह गोला-बारूद कश्मीर में आतंकी हमले को अंजाम देने के लिये इकट्ठा किया गया था।

बोफोर्स होवित्ज़र तोपों से आतंकी कैंपों पर बरस रहे गोले

भारतीय सुरक्षा बलों की ओर से आतंकियों के मंसूबों को नाकाम किये जाने के बावजूद पाकिस्तान की ओर से आतंकियों को कश्मीर में घुसपैठ कराने की कोशिश लगातार की जाती हैं और घुसपैठ कराने के लिये ही सीमा पार से बार-बार संघर्ष विराम का उल्लंघन करके गोलीबारी की जाती है। हर बार की तरह इस बार भी भारतीय सुरक्षा बलों ने गोलीबारी का करारा जवाब दिया है। इतना ही नहीं, अब भारतीय सेना ने मोर्चे पर बोफोर्स होवित्ज़र तोपों को लगा दिया है। इन तोपों से पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) में स्थित पाकिस्तान के उन सैन्य ठिकानों पर गोले बरसाए जा रहे हैं, जिनमें आतंकी कैंप चलाए जाते हैं और उन लॉन्चिंग पैड को भी तबाह किया जा रहा है, जहाँ से आतंकियों को घुसपैठ करवाकर कश्मीर में प्रवेश कराया जाता है। पिछले 48 घण्टे में भारतीय सुरक्षा बलों ने पाकिस्तान की ऐसी ही एक और घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया और घुसपैठ का प्रयास करने वाले पाकिस्तानी बैट के 5 से 7 जवानों / आतंकियों को पीओके में ही ढेर कर दिया।

छिपकर हमला करने के लिये बदनाम है BAT

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम यानी बीएटी एक ऐसी टीम है, जो घात लगाकर हमला करने के लिये जानी जाती है। यह टीम कभी खुलकर सामने नहीं आती है और चोरी-छिपे भारत की सीमा में घुसकर भारतीय सैन्य कर्मियों पर हमले करती है। इस बदनाम स्क्वॉड के साथ पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई कंधे से कंधा मिलाकर चलती है और मौका मिलने पर आतंकियों की भारत में घुसपैठ कराने की फिराक में रहती है।

सेना ने जारी की मारे गये आतंकियों की तस्वीरें

पाकिस्तान तो मुँह की खाने के बाद पलट जाने के लिये बदनाम है ही, परंतु भारत में भी कार्यवाही के सबूत माँगने वालों की कमी नहीं है। इन सबूत माँगने वालों ने सेना को भी नहीं बख्शा है और चाहे सर्जिकल या एयर स्ट्राइक की बात हो या म्यांमार की सीमा में घुसकर उग्रवादियों का सफाया करने की बात हो, देश के अंदर ही सबूतों की माँग करने की परंपरा पुरानी है। इसीलिये सेना ने भी इस बार किसी को भी कोई मौका नहीं दिया और उसकी कार्यवाही में मारे गये पाकिस्तानी बीएटी के जवानों की तस्वीरें जारी कर दी हैं। सेना ने जो तस्वीरें जारी की हैं, उनमें 4 से 5 पाक घुसपैठियों के शव नज़र आ रहे हैं, जिन्हें भारी गोलाबारी के कारण अभी तक पाकिस्तान ने उठाया नहीं है। हालाँकि भारतीय सेना ने सफेद झंडे के प्रतीक के साथ आकर शव उठा ले जाने का प्रस्ताव भेजा है, जिसका पाकिस्तान की ओर से अभी तक कोई जवाब नहीं आया है।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares