भारतीय नौसेना में जल्द ही शामिल होगी स्वदेशी सबमरीन INS करंज

Written by

भारत में बन रही Calvary class की 3rd Submarine INS Karanj के 4 से 5 महीने में नौसेना में शामिल होने की संभावना है। Karanj को 2018 में समुद्र के परीक्षणों के लिए भेजा गया था और सूत्रों के मुताबिक ये परीक्षण सफल हुए हैं। इसी क्लास की चौथी Submarine INS Vela भी अगले साल के अंत तक नौसेना में शामिल हो जाएगी।

Calvary class की पहली दो Submarine Calvary और Khanderi पहले ही नौसेना में शामिल हो चुकी हैं। Calvary class की कुल 6 Submarine का निर्माण Mumbai के मझगांव डॉक लिमिटेड में किया जा रहा है। ये सबमरीन समुद्र में 50 दिनों तक रह सकती हैं और एक बार में 12000 किमी तक की यात्रा कर सकती हैं। इसमें 8 अफसर और 35 नौसैनिक काम करते हैं और ये समुद्र के अंदर 350 मीटर तक गोता लगा सकती हैं।

Calvary class की Submarine समुद्र के अंदर 37 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती हैं। इनमें समुद्र के अंदर किसी Submarine या समुद्र की सतह पर किसी जहाज को तबाह करने के लिए तारपीडो होते हैं। इसके अलावा, ये समुद्र में बारूदी सुरंगें भी बिछा सकती हैं

Article Tags:
·
Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares