रेलवे ने यात्रियों को दी खुशखबरी, अपना कंफर्म टिकट किसी को भी दे सकते हैं –

Written by
Ticket Transfer

नई दिल्ली: भारतीय रेलवे में जहा लाखो लोग हर दिन – रात सफ़र करते है। कुछ लोग डेली पैसेंजर होते हैं, तो कुछ रिजर्वेशन करवाकर अपने परिजनों के पास या फिर किसी कारणवश कही जाते है। रिजर्वेशन करवाने के दौरान किसी अर्जेंट काम में अटक जाते हैं, या किसी भी कारणवश आप नहीं जा पाते हैं, और आपके रिजर्वेशन टिकेट के पेसे भी आपको कुछ डिडक्शन के बाद मिलने पर भी नुकसान ही होता है, तो अब इस विषय पर इतना सोच विचार करने की जरूरत नहीं रही है। अब अगर आप किसी भी कारणवश ट्रेवल नहीं कर पाते तो आप अपना रिजर्वेशन टिकेट, कन्फर्म टिकेट ट्रान्सफर की योजना (Confirmed Ticket Transfer) के द्वारा आप अपने किसी भी फॅमिली मेम्बर को टिकेट दे सकते हैं।

1990 में जारी किये गये कुछ निर्देश थे जिसमे 1997 और 2002 में संशोधन हुआ हैं। अहम स्टेशन के मुख्या रिजर्वेशन सुपरवाइजर एक यात्री द्वारा किसी दूसरे यात्री को दिए गए टिकट पर उसका नाम, बर्थ डेट और सीट नंबर देना होगा। इसके अलवा केवल माता – पिता, भाई – बहन, पति – पत्नी और बच्चो पर ही प्रबंध है।

कैसे उठाये टिकेट ट्रान्सफर सुविधा (Ticket Transfer Plan) का लाभ?

  1. टिकेट ट्रान्सफर करवाने के लिए, ट्रेन के समय से 24घंटे पहले आवेदन देना होगा और साथ ही आईडी प्रूफ रिजर्वेशन सुपरवाइजर के पास जमा करना होगा। यात्री अपने नाम पर एक सीट या बिरह के नाम को बदल सके इसलिए अहम स्टेशनों के मुख्य रिजर्वेशन सुपरवाइजर (Reservation Supervisor) को रेलवे प्रशासन द्वारा प्राधिकृत कर दिया जयगा।
  2. टिकेट केवल माता – पिता, पति – पत्नी या बच्चो के ही हो सकंगे।
  3. किसी भी एक छात्र से दुसरे छात्र को टिकेट ट्रान्सफर करवाने से पहले मान्यता प्राप्त (authorised) शैक्षणिक संस्थान के प्रमुख से परमिशन लेनी होगी।
  4. ड्यूटी करते समय किसी भी सरकारी कर्मचारी को भी टिकेट ट्रान्सफर (Ticket Transfer) किया जा सकता है।
  5. टिकेट ट्रान्सफर करने की सुविधा का लाभ केवल एक बार ही उठाया जा सकता है।
  6. शादी – विवाह में जाने के लिए 48 घंटो पहले लिखित आवेदन देना होगा।
Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares