कश्मीर से आई बड़ी खबर : लतीफ टाइगर सहित तीन आतंकी ढेर और इस तरह सफाया हो गया वानी गैंग का

Written by
आतंकियों के पोस्टर ब्वॉय बुरहान वानी और उसकी गैंग की 2016 में सामने आई तसवीर।

यह तसवीर ज्यादा पुरानी नहीं है, परंतु तसवीर में दिखाई देने वाला हर शख्स भारत की छाती पर घाव देने में जुटा था। तसवीर का मुख्य चेहरा था बुरहान वानी का, जिसे तीन साल पहले ही ढेर कर दिया गया था, परंतु सुरक्षा बलों ने केवल वानी को ढेर कर चैन की साँस नहीं ली और तसवीर में दिखाई दे रहे एक-एक शख्स को चुन-चुन कर मारने का अभियान चलाया और तसवीर में नहीं दिखाई देने वाले वानी गैंग के ही एक हिज़्बुल कमांडर लतीफ टाइगर का भी आज यानी शुक्रवार को ख़ात्मा कर पूरी वानी गैंग का सफाया कर दिया। आज की तारीख में 3 साल पुरानी इस तसवीर में दिखाई दे रहे वानी गैंग का कोई सदस्य जीवित नहीं बचा है।

सबसे पहले आपको बताते हैं कि वानी गैंग की इस तसवीर में कौन-कौन से आतंकवादी शामिल थे ? तो इस गैंग में बुरहान वानी सहित कुल 11 लोग शामिल थे, जिनमें से सबसे पहले बुरहान वानी मारा गया। इसके बाद सुरक्षा बलों ने सद्दाम पैडर, आदिल खांडे, नसीर पंडित, अफ्फाक बट, सबज़ार बट, अनीस, अश्फाक डार, वसीम मल्ला और वसीम शाह को ढेर किया। इस तरह 11 में से 10 आतंकी मारे जा चुके हैं, जबकि एक आतंकी तारिक पंडित ने आत्म-समर्पण कर दिया।

इस तसवीर में गोलाकार में दिखाई दे रहा लतीफ टाइगर भी आज मारा गया

सुरक्षा बलों ने वानी गैंग को तसवीर तक ही सीमित नहीं माना और हिज़बुल मुजाहिद्दीन से जुड़े वानी गैंग के अन्य सदस्यों के खिलाफ भी अभियान जारी रखा और शुक्रवार को सुरक्षा बलों को इस अभियान में बड़ी सफलता मिली, जब सेना, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने शोपियाँ के इमाम साहिब गाँव में हिज़्बुल के ब्रिगेड कमांडर लतीफ अहमद डार उर्फ लतीफ टाइगर को मार गिराया। इसके साथ ही हिज़्बुल के दो और आतंकियों को भी ढेर कर दिया गया। एक गुप्त सूचना के आधार पर शुक्रवार सुबह इमाम साहिब गाँव में एक घर को घेर लिया। इसी दौरान घर में छिपे आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षा जवानों की जवाबी कार्रवाई में लतीफ टाइगर, तारिक मौलवी और शरिक अहमद नेंगरू मारे गए। इन आतंकियों के पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए। लतीफ पुलवामा निवासी था, जबकि तारिक व शरिक शोपियाँ के रहने वाले थे। लतीफ 2014 से ही आतंकी गतिविधियों में शामिल था।

बुरहान वानी का फाइल चित्र

वर्ष 2016 में हिज़्बुल कमांडर और आतंकवादियों के पोस्टर ब्वॉय के रूप में उभरे बुरहान वानी सहित 11 कश्मीरी युवकों की एक तसवीर सामने आई थी, जिसके बाद सनसनी फैल गई थी। ये सभी हिज़्बुल मुजाहिद्दीन से जुड़े हुए थे। पुलवामा के त्राल में जन्मा बुरहान 15 वर्ष की आयु में ही आतंकवादी बन गया था और 22 वर्ष की आयु में मुठभेड़ में मारा गया था। पोस्टर ब्वॉय वानी के साथ तसवीर में जो कुल 11 लोग दिखाई दे रहे थे, उनमें से 10 लोगों का सुरक्षा बलों ने खात्मा कर दिया है, जबकि तसवीर में नहीं दिखाई देने वाला वानी गैंग का आख़िरी सदस्य लतीफ टाइगर भी आज मारा गया और इसके साथ ही कश्मीर घाटी से वानी गैंग का सफाया हो गया।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares