इंडिगो की जगह अब टाटा ग्रुप और जेट एयरवेज खरीद सकती है – एयर इंडिया (Air India)

नई दिल्ली: एयरलाइन्स (Airlines) में मोजूद कंपनी एयर इंडिया (Air India) को काफी समय से सरकार द्वारा बेचने की कोशिश की जा रही है। और यह मंजूरी  मंत्रियों की मीतिमंग (meeting) में 28 जून 2017 में मिल भी गयी थी। जबकी इंडिगो एयरलाइन्स (Indigo Airlines) ने Air India को खरीदने की हामी भी कर दी थी, लेकिन बाद में इनकार भी कर दिया था। इंडिगो एयरलाइन्स (Indigo Airlines) देश की एक बड़ी एविएशन (aviation) कंपनी है| लेकिन एयर इंडिया ने अधिग्रहण की दौड़ में शामिल होने से मना कर दिया था। जिसकी वजह से इंडिगो ने यह खरीदने का फैसला भी बदल दिया। साथ ही इंडिगो ने गुरुवार को यह कहा था कि विनिवेश योजना के तहत इस तरह का विकल्प उपलब्ध नहीं है, जिसकी वजह से Air India खरीदने का कोई मतलब नही बनता। इंडिगो के अध्यक्ष एवं पूर्णकालिक निदेशक आदित्य घोष (Aditya Ghosh) द्वारा एयर इंडिया के अंतरराष्ट्रीय (International) परिचालन तथा एयर इंडिया एक्सप्रेस (India Express) में इंटरेस्ट भी दिखाया गया था। लेकिन बाद में पीछे भी हट गयी थी। जबकि इंडिगो की बाद आज भी एक अंतराष्ट्रीय एयरलाइंस (International Airlines), टाटा ग्रुप (Tata Group) और जेट एयरवेज (Jet Airways) अभी भी Air India को खरीदने चाहाते है|

सूत्रों के मुताबिक इंडिगो 50 प्लेन के साथ अंतराष्ट्रीय उड़ान (International Fly) शुरू करने वाली है। हालंकि इसका Air India के 76 फीसदी हिस्से को बेचने के लिए एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (EOI)  डॉक्यूमेंट जारी कर दिया गया है। एयर इंडिया एयरलाइन की उड़न जून 2018 में खत्म होने वाली है। इतना ही नही बल्कि डीजीसीए ने एयर इंडिया की अतंरराष्ट्रीय हवाई (International Airport) शाखा एयर इंडिया एक्सप्रेस के अनुसूचित आपरेटर परमिट का नवीनीकरण किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *