क्या है यह NRG स्टेडियम, जहाँ आज मोदी रचने जा रहे हैं इतिहास ?

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद 22 सितंबर, 2019 (युवाPRESS)। भारत और अमेरिका सहित पूरे विश्व की निगाहें आज अमेरिका में टेक्सास प्रांत स्थित शहर ह्यूस्टन पर विशेषकर NRG STADIUM पर टिकी हैं, जहाँ पहली बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी किसी अमेरिकी राष्ट्रपति की उपस्थिति में 50 हजार प्रवासी भारतीयों (NRIs) को संबोधित करने वाले हैं। Howdy Modi नामक इस कार्यक्रम में ऐसा पहली बार होगा, जब किसी भारतीय प्रधानमंत्री के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति मंच सार्वजनिक साझा करेंगे। समाचार और सोशल मीडिया में आज हाउडी मोदी, मोदी, अमेरिका, टेक्सा, ह्यूस्टन और एनआरजी स्टैडियम छाए हुए हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हाउडी मोदी कार्यक्रम को लेकर तो कई सारी जानकारियाँ साझा की जा रही हैं, परंतु हम आपको बताने जा रहे हैं उस एनआरजी स्टेडियम के बारे में, जहाँ मोदी आज इतिहास रचने वाले हैं। एनआरजी स्टेडियम के बारे में बताने से पहले आपको बताते हैं एनआरजी क्या है ? एनआरजी अंग्रेजी शब्द ENERGY का संक्षिप्त रूप है। एनर्जी (ऊर्जा) को अंग्रेजी में संक्षिप्त नाम एनआरजी के रूप में संबोधित किया जाता है। 352 मिलियन डॉलर की लागत से निर्मित एनआरजी स्टेडियम में 71 हजार 995 लोगों के बैठने की क्षमता है। एनआरजी स्टेडियम अमेरिका में ह्यूस्टन-टेक्सास स्थित राष्ट्रीय फुटबॉल लीग (NFL) का होम ग्राउंड है। यह विश्व का पहला रूफ फुटबॉल ग्राउंड है।

रिलायंट से एनआरजी स्टेडियम : 22 वर्ष पुराना इतिहास

आज जो एनआरजी स्टेडियम मोदी और ट्रम्प के कार्यक्रम के कारण पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना हुआ है, उसका इतिहास 22 वर्ष पुराना है। दरअसल 1997 में ह्यूस्टन एनएफएल होल्डिंग ग्रुप ने वैश्विक आर्किटेक्चर कंपनी पोप्युलस के समक्ष रूफ फुबॉल स्टेडियम का डिज़ाइन तैयार करने को कहा। 19,00,000 वर्ग फीट क्षेत्रफल के फुटबॉल स्टेडियम की डिज़ाइन तैयार की गई। 9 मार्च, 2000 को स्टेडियम की इमारत का निर्माण शुरू हुआ और अक्टूबर-2001 में इमारतें बन कर तैयार हुईं। पूरे स्टेडियम का निर्माण कार्य 30 महीनों में पूरा हुआ। फुटबॉल स्टेडियम के निर्माण में अमेरिका की ऊर्जा कंपनी NRG ENERGY की ह्यूस्टन स्थित सब्सिडियरी कंपनी Reliant Energy का महत्वपूर्ण योगदान था। इसी कारण उस समय इस स्टेडियम का नाम Reliant Stadium (रिलायंट स्टेडियम) रखा गया। 24 अगस्त, 2002 को मियामी डॉल्फिन्स तथा ह्यूस्टन टेक्सास टीमों के बीच हुए पहले फुटबॉल मैच के साथ इस स्टेडियम का उद्घाटन हुआ। एनआरजी स्टेडियम ने पहली बार 8 सितंबर, 2002 को डलास काऊब्वॉय्स व ह्यूस्टन-टेक्सास मैच की मेजबानी की। स्टेडियम में पहला रोडियो फरवरी-2003 में आयोजित हुआ। इस बीच रिलायंट एनर्जी की पैरेंटल कंपनी एनआजी एनर्जी (मुख्यालय-न्यूजर्सी) ने 9 मार्च, 2014 को रिलायंट स्टेडियम का नाम बदल कर एनआरजी स्टेडियम कर दिया।

You may have missed