प्याज ने बदल दिया बाजार का ट्रेंड : साड़ी खरीदने पर कैशबैक नहीं अब मिलेगा कांदा

Written by

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 16 दिसंबर, 2019 (युवाPRESS)। प्याज के दाम बढ़ने से बाजार का ट्रेंड ही बदल गया है। अभी तक आपने शॉपिंग के दौरान सेल, कैशबैक और अन्य ऑफर के बारे में सुना होगा, परंतु मुंबई के पास ठाणे में एक दुकानदार की ओर से अपनी बिक्री बढ़ाने के लिये अजीबो-गरीब पेशकश की गई है। इस दुकानदार ने उसके यहाँ शॉपिंग करने के बदले में प्याज का ऑफर दिया है। इस दुकान से कपड़े खरीदने पर ग्राहकों को एक किलो प्याज मुफ्त में दिया जा रहा है।

अभी तक तो प्याज काटने पर ही गृहिणियों की आँखों में आँसू आते थे, परंतु अब पिछले कुछ सप्ताहों से हाल यह है कि प्याज की कीमतें लोगों को रुला रही हैं। वैसे तो प्याज की कीमत नवरात्रि के बाद से ही बढ़ना शुरू हो गई थी, परंतु बीते कुछ सप्ताह में प्याज की कीमत 100 रुपये प्रति किलो को भी पार कर गई है। ऐसी स्थिति में अधिकांश सामान्य परिवारों में प्याज की खरीदारी को टाल दिया जा रहा है। प्याज की कीमतों को लेकर लोग अलग-अलग तरह के प्रयोग करते दिख रहे हैं।

प्याज ने किसान को बनाया करोड़पति

एक तरफ जब प्याज की कीमतें आसमान छू रही हैं, तो कर्नाटक के एक किसान की किस्मत खुल गई। चित्रदुर्ग जिले के डोड्डिद्वावनहल्ली गाँव निवासी मल्लिकार्जुन नामक किसान ने प्याज की खेती की थी और प्याज की कीमत बढ़ने से मल्लिकार्जुन की किस्मत बदल गई। उनकी फसल ने उन्हें करोड़पति बना दिया है, जबकि इससे पहले मल्लिकार्जुन कर्ज में डूबे हुए किसानों की श्रेणी में शामिल थे। अब वही मल्लिकार्जुन किसानों के लिये आदर्श बन गये हैं और लोग उनसे खेती के गुर सीखने के लिये आने लगे हैं। 42 वर्षीय मल्लिकार्जुन का कहना है कि उन्होंने कर्ज लेकर प्याज की खेती की थी। ऐसे में उन्होंने बहुत बड़ा रिस्क लिया था, यदि प्याज की कीमत डाउन हो जाती तो प्याज उन्हें रुला देता, परंतु अब प्याज की इसी फसल ने उनके परिवार के अच्छे दिन ला दिये हैं। मल्लिकार्जुन के यहाँ 10 एकड़ ज़मीन में लगभग 240 टन यानी करीब 20 ट्रक भर कर प्याज की बंपर पैदावार हुई। उन्होंने इस खेती में 15 लाख रुपये निवेश किये थे और उन्होंने सोचा था कि उन्हें 5 से 10 लाख रुपये का मुनाफा होगा, परंतु अचानक प्याज की कीमत इतनी बढ़ गई कि उनका मुनाफा भी कई गुना बढ़ गया और वे करोड़पति बन गये। अब इलाके में उनकी हैसियत एक सेलिब्रिटी जैसी हो गई है। मल्लिकार्जुन का कहना है कि उन्हें जो अतिरिक्त आमदनी हुई है, उससे वे और ज़मीन खरीदेंगे तथा पैदावार बढ़ाएँगे।

ठाणे में कपड़ा खरीदने पर मुफ्त मिल रहा है प्याज

एक तरफ प्याज पेट्रोल से भी महँगा हो गया है और उसने सेब की कीमतों को भी पीछे छोड़ दिया है। ऐसे में प्याज आम लोगों की पहुँच से दूर चला गया है। जो लोग प्याज खरीदने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं, ऐसे लोगों के लिये मुफ्त में प्याज देने का ऑफर लोगों को भी लुभा रहा है। ठाणे के उल्हासनगर में शीतल हैंडलूम में इस विचित्र ऑफर का असर भी दिख रहा है और बिक्री में तेजी देखने को मिल रही है। दुकानदार के कथनानुसार ठाणे में प्याज 130 रुपये प्रति किलो के दाम से बिक रहा है और वह 1,000 रुपये के कपड़े खरीदने पर एक किलोग्राम प्याज मुफ्त दे रहे हैं। दुकानदार के अनुसार उनका यह ऑफर खूब काम कर रहा है और उनकी दुकान पर ग्राहकों की संख्या में भारी बढ़ोतरी हुई है।

एक महीने में प्याज की कीमत में 81 प्रतिशत उछाल

उल्लेखनीय है कि देश के बड़े शहरों में प्याज के दाम पिछले एक साल में 5 गुना तक बढ़े हैं और अभी औसत दाम 101.35 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर तक पहुँच गये हैं। हाल ही में सरकार की ओर से राज्य सभा में जानकारी दी गई थी कि पिछले एक महीने में प्याज के दाम 81 प्रतिशत उछल गये। एक साल पहले प्याज की कीमत लगभग 19.69 रुपये प्रति किलोग्राम थी और एक महीने पहले तक 55.95 रुपये प्रति किलोग्राम के दाम से बिक रहा था, जो अब 100 रुपये के पार हो चुका है। प्याज का दाम बढ़ने से देश में प्याज की खेती पर भी दुष्प्रभाव पड़ा है और खरीफ तथा लेट-खरीफ सत्र में प्याज के घरेलू उत्पादन में लगभग 22 प्रतिशत तक गिरावट का अनुमान है।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares