नहीं है VOTER ID ? कोई चिंता नहीं, ये 11 ‘सैनिक’ करेंगे आपके मत देने के अधिकार की रक्षा, परंतु…

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पहले चरण का मतदान गत 11 अप्रैल को हो चुका है। अब दूसरे चरण का मतदान 18 अप्रैल को होने जा रहा है। गुजरात में तीसरे चरण में 23 अप्रैल को मतदान होना है। इसके उपरांत चार और चरण के लिए मतदान 19 मई तक होगा। ऐसे में यदि किसी मतदाता के पास मतदाता परिचय पत्र नहीं है और वह चिंतित हो रहा रहा हो कि मतदाता परिचय पत्र के बिना कैसे मतदान करेगा, तो उसकी चिंताओं का हल हम यहाँ बताने जा रहे हैं।

मतदाता परिचय पत्र नहीं होने के बावजूद आप अपने मतदान केन्द्र पर जाकर मतदान कर सकते हैं। मतदान केन्द्र पर उपस्थित निर्वाचन अधिकारी और कर्मचारी आपको मतदाता परिचय पत्र न होने के बावजूद मतदान करने देंगे। इसके लिए आपको कुछ अन्य ऐसे परिचय प्रमाण (ID PROOF) साथ ले जाने होंगे, जो आपकी पहचान स्थापित कर सकें। आप मतदाता परिचय पत्र के बिना भी इन आईडी प्रूफ के जरिए मतदान कर सकेंगे, परंतु एक शर्त तो आपको पूरी करनी ही होगी और वह शर्त यह है कि मतदान केन्द्र पर निर्वाचन कर्मियों के पास मौज़ूद मतदाता सूची (VOTER LIST) में आपका नाम होना चाहिए। यदि वोटर लिस्ट में आपका नाम नहीं होगा, तो आप मतदान नहीं कर सकेंगे।

कौन-कौन से हैं विकल्प ?

यदि आपका नाम मतदाता सूची में है और आपके पास मतदाता परिचय पत्र नहीं है, तो आप निम्न लिखित 11 आईडी प्रूफ दिखा कर अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते हैं। ये आईडी प्रूफ यदि आपके पास होंगे, तो आपको मतदाता परिचय पत्र न होने के बावजूद आपके मत देने के अधिकार से कोई वंचित नहीं कर सकेगा। गुजरात के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (CEO) ने भी 23 अप्रैल को होने वाले मतदान के दौरान मतदाता परिचय पत्र न होने की स्थिति में इन 11 आईडी प्रूफ को दिखा कर मतदान करने के विकल्प घोषित किए हैं।

(1) पासपोर्ट

(2) ड्राइविंग लाइसेंस

(3) सर्विस परिचय पत्र, जो केन्द्र/राज्य सरकार, सार्वजनिक उपक्रम, पब्लिक लिमिटेड कंपनियों की ओर से दिया गया हो और जिसमें आपकी तसवीर (फोटो) हो।

(4) पासबुक, जो बैंक या पोस्ट ऑफिस की ओर से दी गई हो, जिसमें आपकी तसवीर हो।

(5) पैन कार्ड

(6) स्मार्ट कार्ड, जो एनआरपी के तहत आरजीआई की ओर से दिया गया हो।

(7) मनरेगा जॉब कार्ड

(8) स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, जो श्रम मंत्रालय की स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत दिया गया हो।

(9) पेंशन दस्तावेज, जो फोटोयुक्त हो।

(10) सरकारी परिचय पत्र, जो सांसद, विधानसभा, विधान परिषद् के सदस्यों को सरकार की ओर से दिया गया हो।

(11) आधार कार्ड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed