नवरात्रि-2019 : SK Farm में जमकर गरबा कर रहे है अहमदाबाद वासी

Written by

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 6 अक्टूबर, 2019 (युवाPRESS)। गुजरात सहित देश भर में शारदीय नवरात्रि की धूम मची हुई है। विशेषकर गुजरात में इस नवरात्रि के दौरान बालक से लेकर वृद्ध तक सभी उम्र के लोग माँ जगदंबा को रिझाने के लिये पारंपरिक गरबा नृत्य करते हैं। अब बदलते समय के साथ गरबा भी गली-मोहल्लों से निकल कर बड़े-बड़े क्लब हाउस और मैदानों में बड़े पैमाने पर आयोजित होने लगा है। इन कार्यक्रमों में हजारों की संख्या में लोग एक ही स्थल पर एकत्र होकर सामूहिक रूप से गरबा नृत्य करते हैं। नौ दिन की नवरात्रि का महोत्सव अब अपने अंतिम पड़ाव पर पहुँच गया है। इस बीच सप्तमी की रात शनिवार को मुख्य संपादक आई. के. शर्मा के नेतृत्व में YUVAPRESS की टीम भी अहमदाबाद शहर के बोड़कदेव इलाके में स्थित एसके फार्म पार्टी प्लॉट में पहुँची। इस अवसर पर एसके फार्म के मालिक अनिल सिंह ने आई. के. शर्मा और उनकी टीम का हार्दिक स्वागत किया।

एसके फार्म अहमदाबाद में ‘थनगनाट-2019’ की झलक

‘थनगनाट-2019’ सामूहिक गरबा नृत्य महोत्सव। (फोटो युवाप्रेस)
अपनी बिटिया के साथ युवाप्रेस टीम से मोदी जी
युवा प्रेस टीम के सदस्य ख़ुशी क पलों को साँझा करते हुए
गरबा नृत्य में मग्न युवाप्रेस टीम
युवाप्रेस टीम के एक सदस्य जोशी जी और उनकी बिटिया के साथ सेल्फी लेते हुए I K Sharma

इसके बाद युवा टीम ने ‘थनगनाट-2019’ कार्यक्रम में जम कर धूम मचाई और गरबा नृत्य किया। यहाँ आयोजित हो रहे ‘थनगनाट-2019’ सामूहिक गरबा नृत्य महोत्सव में हजारों की संख्या में उत्साहित युवा भाग ले रहे हैं। कार्यक्रम की सफलता से आयोजकों का उत्साह चरम पर है।

SK Farm में YuvaPress के मुख्य संपादक का स्वागत

‘थनगनाट-2019’ सामूहिक गरबा नृत्य महोत्सव में SK Farm के मालिक अनिल सिंह (बाएँ) युवाप्रेस के मुख्य संपादक आई के शर्मा (दाएँ) का स्वागत करते हुए। (फोटो युवाप्रेस)
‘थनगनाट-2019’ सामूहिक गरबा नृत्य महोत्सव में एसके फार्म के मालिक अनिल सिंह (बाएँ) और युवाप्रेस के मुख्य संपादक आई के शर्मा (दाएँ)। (फोटो युवाप्रेस)

मुख्य संपादक आई. के. शर्मा के आने की सूचना मिलने पर एसके फार्म के मालिक अनिल सिंह स्वयं उनका स्वागत करने के लिये आये और आई के शर्मा और उनकी टीम को थनगनाट 2019 का लुत्फ उठाने का न्योता दिया।

उल्लेखनीय है कि भारी बारिश के कारण मैदानों में पानी भर जाने से शुरुआती दो दिन गरबा कार्यक्रम स्थगित रखने पड़े थे। बारिश थमने के बाद 1 अक्टूबर को तीसरी नवरात्रि से गरबा कार्यक्रमों का आयोजन संभव हुआ था।

Article Categories:
News

Comments are closed.

Shares