खूब शोहरत बटोर रहा नोएडा पुलिस का OPRATION CLEAN-7 : जानिए आपके लिए भी है चेतावनी !

Written by

रिपोर्ट : विनीत दुबे

अहमदाबाद, 8 जुलाई 2019 (YUVAPRESS)। नोएडा के एसएसपी वैभव कृष्ण के आदेश पर शहर पुलिस की ओर से ‘OPRATION CLEAN’ अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान का उद्देश्य शहर में ट्रैफिक व्यवस्था की स्थिति सुधारना है। इसी कड़ी में रविवार को नोएडा पुलिस ने OPRATION CLEAN-7 लॉन्च किया, जिसमें वाहनों पर जातिसूचक नाम और प्रतीक लिखवाकर या अंकित करवाकर रौब झाड़ने वालों के खिलाफ कार्यवाही की।

ऑपरेशन क्लीन-7 में रौब झाड़ने वालों पर हुई कार्यवाही

गौतमबुद्धनगर जिले के नोएडा में एसएसपी वैभव कृष्ण ने ट्वीट करके जानकारी दी कि शहर में गलत नंबर प्लेट या बिना नंबर प्लेट वाले वाहनों से अपराधों को अंजाम देने की घटनाएँ बढ़ रही हैं। इसलिये पुलिस गलत नंबर प्लेट और बिना नंबर प्लेट वाले वाहनों के साथ-साथ नंबर प्लेट पर काली पट्टी लगवाने, नंबर प्लेट के रंग और साइज के नियमों का उल्लंघन करने वाले और नंबर प्लेट में नंबर को छोटा करके उसमें जातिसूचक शब्द, वाक्य या सूत्र लिखवाने वाले वाहनों के विरुद्ध कार्यवाही की जा रही है। इसी कार्यवाही के अंतर्गत रविवार को पूरे नोएडा में 4 घण्टे के लिये OPRATION CLEAN-7 चलाया गया।

इस ऑपरेशन के दौरान नंबर प्लेट के स्थान पर ब्राह्मण, ठाकुर, जाट, गूर्जर, चौधरी, यादव आदि जातिसूचक नाम लिखे वाहनों के विरुद्ध कार्यवाही की गई। मात्र 4 घण्टे के ऑपरेशन में 1,457 वाहनों को पकड़ा गया और उनका चालान काटा गया। ऑपरेशन के दौरान 99 गाड़ियाँ जब्त की गईं और 8 लोगों की गिरफ्तारी भी की गई। इनमें से शहरी क्षेत्र में 561 गाड़ियों का चालान काटा गया और 62 वाहन जब्त किये गये। जबकि ग्रामीण इलाके में 295 गाड़ियों का चालान काटने के अलावा 37 गाड़ियाँ सीज़ की गईं। साथ ही ट्रैफिक पुलिस ने भी 601 गाड़ियों का चालान काटा। गाड़ियों की जाँच-पड़ताल के दौरान गाड़ियों से चोरी के मोबाइल फोन, एक तमंचा, एक जीवित कारतूस, एक कारतूस का खोखा, एक देशी पिस्तौल और उसके साथ 5 जीवित कारतूस भी बरामद होने से 8 लोगों की गिरफ्तारी की गई। यह ऑपरेशन शाम 6 बजे से रात 10 बजे के दौरान चलाया गया था। नोएडा पुलिस का यह 7वाँ ऑपरेशन था, इससे पहले नोएडा पुलिस 6 ऑपरेशन चला चुकी है।

नोएडा पुलिस के ऑपरेशंस से पूरे जिले में हड़कंप

नोएडा पुलिस ने सोमवार से एक सप्ताह के लिये ऑपरेशन क्लीन अभियान चलाया था, जिसमें पहले दिन शहर की सड़कों पर नासूर की तरह फैलते जा रहे अवैध पार्किंग के जाल को काटने की कार्यवाही की गई। इसमें सड़कों को अवैध पार्किंग से मुक्त कराने के लिये वाहनों के पहियों में क्लैंप लगाने का अभियान चलाया गया था और चालान काटकर वाहन चालकों से दंड वसूल किया गया।

ऑपरेशन क्लीन-2 में भी बाजारों में फुटपाथों पर वाहनों की अवैध पार्किंग के खिलाफ अभियान चलाया गया।

बुधवार को चलाए गये ऑपरेशन क्लीन-3 में अवैध रूप से दौड़ रहे ऑटो तथा डग्गामार वाहनों पर शिकंजा कसा गया था। इस ऑपरेशन में नोएडा में 704, ग्रेटर नोएडा शहर व देहात में 645 और यातायात पुलिस ने अलग-अलग स्थानों पर कुल 1,649 ऑटो के विरुद्ध कार्यवाही की। इनमें से 1,174 ऑटो को सीज़ किया गया और 475 वाहनों का चालान काटा गया था। इस कार्यवाही से पूरे जिले में अफरा-तफरी मच गई थी।

ऑपरेशन क्लीन-4 में गुरुवार को पुलिस ने सुबह 5 बजे से 9 बजे तक शराब पीकर ड्राइविंग करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की। इस ऑपरेशन में जिले में बिना परमिट के दौड़ रही 72 बसों को भी जब्त किया गया, जो यमुना एक्सप्रेस-वे से गुजर रही थी। जब्त की गई बसों के चालकों पर परमिट नहीं होने का आरोप है।

ऑपरेशन क्लीन-5 में पब्लिक ट्रांसपोर्ट वाहनों को शिकंजे में लिया गया। इस अभियान में भी अवैध पार्किंग को लेकर कार्यवाही की गई। यह अभियान उद्योग मार्ग से एचसीएल तिराहा, सेक्टर 18 मार्केट, अट्टा मार्केट, सेक्टर-62, छलेरा से सेक्टर 37 अण्डरपास और देहात क्षेत्र में अल्फा कॉमर्शियल बेल्ट तथा जगत फार्म तक चलाया गया था। इसमें 197 फोरव्हीलर वाहनों को टो किया गया, 1,203 फोरव्हीलर वाहनों का चालान काटा गया, इतने ही वाहनों को ई-चालान भेजा गया और 65 वाहनों का व्हील क्लैंप करके दंड वसूल किया गया।

ऑपरेशन क्लीन-6 में फिर एक बार खुले में शराब पीने वालों और शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर कार्यवाही की गई, जिसमें शनिवार को 474 लोगों को गिरफ्तार करके कार्यवाही की गई। इस ऑपरेशन में ब्रेथ एनालाइजर परीक्षण किया गया था और शहर क्षेत्र में 241 व ग्रामीण क्षेत्र में 233 लोगों के खिलाफ कार्यवाही की गई। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 290 (सार्वजनिक उपद्रव) और धारा 34 (सड़कों पर अपराधों के लिये सजा) के तहत मामले दर्ज किये थे।

Article Categories:
News

Leave a Reply

Shares